रांची

--Advertisement--

रांची-टाटा की दूरी 37 किमी घटेगी, डेढ़ घंटे बचेगा, नामकुम-कांड्रा रेल लाइन को मंजूरी

रेल बजट में झारखंड को मिले 2993 करोड़, रांची रेल मंडल को 337 करोड़।

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 06:57 AM IST
- फाइल - फाइल

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा भेजे गए 106 किमी लंबी नामकुम-कांड्रा रेल लाइन के प्रस्ताव को रेल बजट में मंजूरी मिल गई है। सिंगल लाइन को बनाने के लिए रेल मंत्रालय ने 2120 करोड़ रुपए की मंजूरी दी है। इसके बन जाने से रांची से जमशेदपुर की दूरी 37 किमी कम हो जाएगी। करीब डेढ़ घंटे समय भी बचेगा। अभी जमशेदपुर जाने के लिए ट्रेन के इंजन को मुरी स्टेशन पर रिवर्स करना पड़ता है, इससे रेलवे का 45 मिनट का समय बर्बाद होता है। रांची डीआरएम विजय कुमार गुप्ता ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नई लाइन में ट्रेनों की स्पीड भी बढ़ेगी, क्योंकि रांची-मुरी रेलखंड पर स्पीड लिमिट 75 किमी प्रतिघंटे है, जबकि नामकुम-कांड्रा रेल लाइन पर 110 किमी की स्पीड से ट्रेन दौड़ेगी।

लोधमा-पिस्का लाइन के लिए 428.65 करोड़

लोधमा-पिस्का बाइपास 17.2 किमी रेल लाइन को भी मंजूरी दी गई है। इस पर 428.65 करोड़ खर्च होंगे। इसके बन जाने से राउरकेला से आनेवाली ट्रेन को रांची स्टेशन नहीं आना होगा। लोधमा से पिस्का, टोरी, बरकाकाना होते हुए दिल्ली की तरफ जाएगी। वहीं बरकाकाना से ओडिशा जाने वाली ट्रेन मुरी की बजाय टोरी, पिस्का, लोधमा होते हुए राउरकेला चली जाएगी।

ये योजनाएं भी मंजूर

{पारसनाथ-मधुबन-गिरिडीह लाइन को मंजूरी, 35 किमी की सिंगल लाइन पर 729 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
{चांडिल से अनारा बर्नपुर 125 किमी तीसरी लाइन के लिए 1646.81 करोड़।
{बोकारो-तेलवरिया 38 किमी लाइन दोहरीकरण के लिए 390.39 करोड़।
{रांची-लोहरदगा टोरी लाइन के इलेक्ट्रिफिकेशन के लिए 326.94 करोड़ रुपए मंजूर।
{हटिया-ओरगा सेक्शन के डबलिंग के लिए 200 करोड़ रुपए स्वीकृत।

X
- फाइल- फाइल
Click to listen..