--Advertisement--

कोयला इंडस्ट्री में 16 अप्रैल को हड़ताल, इंटक ने किया इस स्ट्राइक का विरोध

यह फैसला रविवार को नई दिल्ली स्थित भारतीय मजदूर संघ कार्यालय में हुई बैठक में लिया गया।

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 02:35 AM IST
कॉमर्शियल कोल माइनिंग के विरो कॉमर्शियल कोल माइनिंग के विरो

रांची. कॉमर्शियल कोल माइनिंग के विरोध में चार केंद्रीय श्रम संगठनों ने 16 अप्रैल को हड़ताल की घोषणा की है। यह फैसला रविवार को नई दिल्ली स्थित भारतीय मजदूर संघ कार्यालय में हुई बैठक में लिया गया। इसमें कॉमर्शियल माइनिंग को कोयला मजदूरों के हितों से खिलवाड़ बताया। बैठक में एटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेंद्र कुमार, आरसी सिंह, एचएमएस के नाथूलाल पांडेय, ब्रजेंद्र कुमार राम, सीटू के डीडी रामनंदन, वाईएन सिंह और भामसं के डॉ बंसत कुमार राय ने हिस्सा लिया। उधर इंटक ने हड़ताल का विरोध किया है।

इंटक के महासचिव राजेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि चारों श्रम संगठन के नेताओं ने जेबीसीसीआई में मजदूर हितों के खिलाफ समझौते पर हस्ताक्षर किया है। मजदूर हड़ताल पर नहीं जाएंगे। इंटक फेडरेशन की 12 मार्च को आसनसोल में होने वाली बैठक में हम अपना पत्ता खोलेंगे।