--Advertisement--

मनरेगा के कुएं का भुगतान नहीं हुआ था, किसान ने फांसी लगाकर दे दी जान

कुएं का निर्माण पूरा होने के बावजूद भुगतान के लिए उसे लगातार दौड़ाया जा रहा था।

Dainik Bhaskar

Dec 16, 2017, 06:14 AM IST
मृतक करलूस कुजूर। मृतक करलूस कुजूर।

रांची. मांडर थाना क्षेत्र के मुड़मा में शुक्रवार को एक किसान ने खुदकुशी कर दी। मनरेगा के कुएं का निर्माण पूरा करने के बावजूद भुगतान न होने पर 56 साल के करलूस कुजूर ने फांसी लगा ली। परिजनों के मुताबिक करलूस के भाई को मनरेगा का कुआं मिला था। निर्माण पूरा होने के बावजूद भुगतान के लिए लगातार दौड़ाया जा रहा था। मजदूर जब पैसे के लिए परेशान करने लगे तो एक और धान आदि बेचकर मजदूरों को 30 हजार रुपए दे दिया। इन्हीं बातों को लेकर वह पिछले कई दिनों से परेशान था।

- शुक्रवार सुबह नौ बजे नाश्ता करने के बाद वह घर में आराम कर रहा था। पत्नी सरोजनी कुजूर घर के पास ही मवेशियों को बांधने गई थीं। वापस लौटी तो करलूस वहां नहीं था। पास के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था।

- पड़ोसियों को बुलाकर दरवाजा खुलवाया तो वहां करलूस फांसी के फंदे पर झूलता हुआ मिला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। करलूस घर का इकलौता कमाऊ सदस्य था। एक बेटा आशीष कुजूर रांची में पढ़ाई कर रहा है। बेटी अर्चना का विवाह हो चुका है।
- गौरतलब है कि मांडर में मनरेगा याेजना में कई गड़बड़ियां उजागर हुई हैं। चार कंप्यूटर ऑपरेटर बर्खास्त हो चुके हैं। बीडीओ को भी शाे-कॉज किया जा चुका है।

X
मृतक करलूस कुजूर।मृतक करलूस कुजूर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..