--Advertisement--

महिलाओं की न्यूड फोटोज वायरल करने के मामले में नेता पर एफआईआर दर्ज

घटवार आदिवासी महासभा के नेता रामाश्रय सिंह के खिलाफ शुक्रवार को धनबाद थाना में मामला दर्ज किया गया।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 06:43 AM IST

धनबाद. नौकरी की मांग पर डीवीसी के खिलाफ नग्न प्रदर्शन करने वाली आदिवासी महिलाओं की तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल करने वाले घटवार आदिवासी महासभा के नेता रामाश्रय सिंह के खिलाफ शुक्रवार को धनबाद थाना में मामला दर्ज किया गया। धनबाद थाना में तैनात जमादार नंदलाल राम की लिखित शिकायत पर कांड संख्या 625/17 अंकित कर रामाश्रय सिंह को भादवि की धारा 294, 354 सी, आईटी एक्ट 66 ई व 67 के तहत आरोपी बनाया गया।

धनबाद थाना के इंस्पेक्टर अखिलेश्वर चौबे मामले के अनुसंधानकर्ता होंगे। पुलिस ने मामला दर्ज करते ही आरोपी रामाश्रय सिंह की तलाश शुरू कर दी है। रामाश्रय सिंह की गिरफ्तारी को लेकर वरीय अधिकारियों ने जरूरी निर्देश सभी थानों को जारी किया है। रामाश्रय सिंह के संभावित ठिकानों पर पुलिस की नजर है। पुलिस उन्हें कभी भी गिरफ्तार कर सकती है।

आवेदन का मजमून: महिलाओं की लज्जा भंग किया

वादी बने जमादार नंदलाल राम ने आवेदन में कहा है कि डीवीसी के विस्थापित 9 महिलाओं ने अपने आबरू को दांव पर लगाकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, मुख्य न्यायाधीश एवं झारखंड के राज्यपाल को अर्धनग्न तस्वीर भेजी थी। उन्होंने इन तस्वीरों को भेज इच्छा मृत्यु की मांग की थी। उनके शरीर के नग्न हिस्से आंदोलन के नारे की तख्ती से ढके हुए हैं। घटवार आदिवासी महासभा के सलाहकार रामाश्रय सिंह के द्वारा इस अर्धनग्न तस्वीरों का उपयोग किया गया। महिलाओं की तस्वीरों को रामाश्रय सिंह द्वारा सोशल मीडिया (फेसबुक)डाला गया। जो महिलाओं में आक्रोश की भावना उत्प्रेरित कर रहा है। अर्धनग्न महिलाओं की तस्वीर सार्वजनिक कर महिलाओं की लज्जा भंग किया गया। जो एक संज्ञेय अपराध है। महिलाओं की तस्वीर पोस्ट करने वाले व्यक्ति पर आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाए।

आरोपी को जल्द गिरफ्तार करेंगे

धनबाद के एसएसपी मनोज रतन चोथे ने बताया कि महिला आयोग के आदेश पर पुलिस ने रामाश्रय सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। आरोपी रामाश्रय सिंह को गिरफ्तार किया जाएगा।