--Advertisement--

त्रिवेणी इंफ्राटेक के ठिकानों पर आयकर छापे, 10 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी पकड़ी

दर्जन भर से अधिक बैंक खाते भी मिले हैं, जिन्हें फ्रीज कर दिया गया है।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 07:19 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

रांची/जमशेदपुर. आयकर विभाग की टीम ने बुधवार को त्रिवेणी इंफ्राटेक के रांची, जमशेदपुर, बोकारो, कोलकाता और मुंबई में 20 ठिकानों पर छापेमारी की। टीम को 20 लाख रुपए नकद और 10 करोड़ की टैक्स चोरी के दस्तावेज मिले हैं। दर्जन भर से अधिक बैंक खाते भी मिले हैं, जिन्हें फ्रीज कर दिया गया है। विभाग के डिप्टी डायरेक्टर (अन्वेषण) विजय कुमार के नेतृत्व में करीब 100 अधिकारियों ने बुधवार को एक साथ इन ठिकानों पर दबिश दी। रांची में अशोक नगर और क्लब रोड स्थित कंपनी के कार्यालय से निवेश और जमीन के कागजात मिले। टीम ने बोकारो के को-ऑपरेटिव कॉलोनी में कंपनी के एक एकाउंटेंट के घर को भी खंगाला।

- जमशेदपुर के बिष्टुपुर में गुरुद्वारा बस्ती कार्यालय, कांड्रा-चौका रोड पर डिवाइन एलॉय एंड पावर कंपनी, जूही इंडस्ट्री, डिवाइन विद्युत लिमिटेड और त्रिवेणी इंफ्राटेक कंपनी पर भी छापेमारी की गई। आयकर विभाग के डिप्टी डायरेक्टर ने बताया कि अब तक कंपनी के मालिकों के पास से बैंक एकाउंट और सोने-चांदी के जेवर मिले हैं।

- प्रारंभिक जांच में 10 करोड़ की टैक्स चोरी के दस्तावेज भी मिले हैं। जांच तीन दिन और चलेगी। ऐसे में हेराफेरी की रकम बढ़ सकती है। टीम को हवाला के जरिए लेनदेन के कागजात भी मिले हैं।

चंदनक्यारी में फूड पार्क लगा रहे अखिलेश

- निदेशक अखिलेश पांडेय अशोकनगर में रहते हैं। उन्होंने भोजपुरी फिल्म “पिया तोसे नैना लागे रे’ में काम किया था। फ्लाॅप होने के बाद चौका में स्टील व छड़ बनाने की कंपनी खोली। इससे पहले वे बिल्डर का भी काम कर चुके हैं।

- कंपनी बोकारो के चंदनक्यारी में एक फूड पार्क भी लगा रही है, जिसके लिए मोमेंटम झारखंड में अखिलेश पांडेय ने एमओयू किया था। 20 दिसंबर को थर्ड ग्राउंड ब्रेकिंग में प्रोजेक्ट का शिलान्यास भी हुआ है।