Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Jammu Kashmir Encounter In Kupwara Halmatpora

शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी

कुपवाड़ा के हलमतपोरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई थी।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 23, 2018, 03:14 AM IST

  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    घाटी में आतंकियों से मुठभेड़ में मांडर का जवान शहीद

    मांडर(रायपुर).जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों से मुठभेड़ में मांडर के बूढ़ाखुखरा निवासी सैनिक रंजीत खलखो (32) शहीद हो गए। इस मुठभेड़ में दो सैनिक और जम्मू-कश्मीर पुलिस के दो जवान भी शहीद हुए। बुधवार देर रात दीपाटोली रांची के दो जवान अजीत एक्का व सामुएल तिड़ो ने घर आकर भाई राजेंद्र को रंजीत की शहादत की सूचना दी। इससे पहले सैन्य कार्यालय से फोन पर भी उनके शहीद होने की सूचना दी गई थी।

    - एक सप्ताह की छुट्‌टी मनाने के बाद रंजीत पांच जनवरी को कश्मीर गए थे।

    - इससे पहले वे गया में तैनात थे। मां रोलेन खलखो बीमार हैं। शुक्रवार को पार्थिव शरीर मांडर पहुंचेगा।

    - पांच भाई-बहनों में सबसे बड़े रंजीत के पिता नाजो खलखो भी फौजी थे। फौज से रिटायर होने के बाद वे मांडर बीडीओ की गाड़ी चलाते थे।

    - सात जुलाई 2012 को हार्ट अटैक से उनकी मौत उनकी जगह छोटे भाई राजेंद्र को नौकरी मिली।
    - गांव के लोगों ने बताया कि रंजीत हंसमुख और मिलनसार युवक था।

    - जब भी वह बॉर्डर से गांव आता, सबका हाल-चाल पूछता। सीमा पर भारतीय सैनिकों की बहादुरी का किस्सा सुनाता था।

    शहादत पर गम और गुस्सा, बहन ने कहा- भारत-पाक विवाद के लिए नेता िजम्मेदार

    - बहन ने बताया कि रंजीत नेे 2002 में मैट्रिक पास की थी। इसके बाद उनकी फौज में बहाली हो गई। अप्रैल में उनकी शादी होने वाली थी।

    - जनवरी में कश्मीर जाते समय उन्होंने कहा था कि अप्रैल में 15 दिन की छुट्‌टी लेकर आऊंगा और शादी करूंगा। उन्हें बॉक्सिंग, गिटार बजाने और कविता लिखने का भी शौक था।

    - भाई की शहादत की सूचना मिलने के बाद बहन सरस्वती की आंखों में गम के साथ गुस्सा भी था।

    - राजनीति शास्त्र से बीए कर रही सरस्वती ने कहा कि भारत-पाकिस्तान के बीच चल रहे विवाद के लिए यहां के नेता जिम्मेदार हैं।

    शहीद सैनिक के परिजनों को 10 लाख

    -मुख्यमंत्री रघुवर दास ने रंजीत खलखो के परिजनों को राज्य सरकार की ओर से 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि खलखो की शहादत पर झारखंड के हर नागरिक को गर्व है।

  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर शहीद रंजीत को श्रद्धांजलि देते सेना के अफसर समेत अन्य लोग।
  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    शहीद रंजीत
  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    शहीद रंजीत की फैमिली
  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    शहीद रंजीत का घर
  • शहीद की कुछ दिन बाद थी शादी, बहन से कहा था- छुट्‌टी लेकर आऊंगा और करूंगा शादी
    +5और स्लाइड देखें
    शहीद रंजीत की दादी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×