Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Lalu Prasad Yadav Argue In Court In Dumka Treasury Case Fodder Scam

हुजूर, मेरी होली जेल में, पर शुभकामना देते हैं कि आपके दुश्मनों का सर्वनाश हो : लालू

चारा घोटाला मामले में पूर्व सीएम लालू प्रसाद ने काेर्ट में खुद बहस की।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 01, 2018, 12:30 AM IST

हुजूर, मेरी होली जेल में, पर शुभकामना देते हैं कि आपके दुश्मनों का सर्वनाश हो : लालू

रांची. दुमका ट्रेजरी से अवैध निकासी के चारा घोटाले मामले आरसी-38 में बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हॉल में सुनवाई हुई। सिविल कोर्ट के वीडियो कांफ्रेंसिंग हॉल में स्पेशल जज शिवपाल सिंह ने आरोपियों की ओर से लॉ पॉइंट पर बहस सुनी। इस दौरान लालू प्रसाद समेत सभी आरोपियों को होटवार जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया गया। लालू प्रसाद ने अपने बचाव में खुद बहस की।

बिहार के तत्कालीन अकाउंट जनरल की भूमिका पर उठाए सवाल

लालू ने कोर्ट से कहा- "हुजूर! तत्कालीन एजी टीएन चतुर्वेदी को इस मामले में आरोपी बनाया जाए। चारा घोटाला के दौरान वही बिहार के तत्कालीन अकाउंट जनरल थे। अगर वे सतर्कता से जांच करते तो इतना बड़ा घोटाला नहीं होता। शुरुआत में ही अवैध निकासी रुक जाती।"

कोर्ट से बोले लालू- इस बार जरा बढ़िया से जजमेंट लिखिएगा

- कोर्ट ने लालू से पूछा, टीएन चतुर्वेदी जीवित हैं या नहीं? लालू ने कहा- "हां हुजूर, जीवित हैं। बीजेपी वालों ने उन्हें मुझे फंसाने के एवज में इनाम देते हुए राज्यसभा का सदस्य बना दिया है।"

- इसके बाद लालू ने जज से पूछा- "हुजूर, कब तक जजमेंट दीजिएगा। जल्दी दे दीजिए। इस बार जरा बढ़िया से जजमेंट लिखिएगा। इस बार मेरी होली तो जेल में ही मनेगी। पर, हम आपके लिए शुभकामना व्यक्त करते हैं कि इस बार की होलिका में आपके सारे दुश्मनों का सर्वनाश हो जाए।"

कोर्ट ने फैसले की कॉपी दाखिल करने के लिए 5 मार्च की तारीख तय की

बुधवार को मामले से जुड़े सभी आरोपियों के वकील ने सीबीआई की ओर से की गई बहस का जवाब देते हुए अपना पक्ष रखा। आरोपियों के वकीलों ने हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस तरह के मामले में पूर्व में दिए गए फैसले की कॉपी दाखिल करने के लिए समय मांगा। कोर्ट ने फैसले की कॉपी दाखिल करने के लिए 5 मार्च की तारीख तय की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा पेश हुए आरोपी जगदीश शर्मा की ओर से उनके वकील ने कुछ कागजात दाखिल करने के लिए अनुरोध किया, पर कोर्ट ने सभी कागजात की फोटोकॉपी होने के कारण नहीं स्वीकारा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: hujur, meri holi jail mein, par shubhkamnaa dete hain ki aapke dushmnon ka srvnaash ho : laalu
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×