Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Man Hand Crushed In Machine

क्रशर में फंसकर हाथ कंधे से हुआ अलग, कटे हिस्से को लेकर पहुंचे अस्पताल

काम के दौरान मशीन में फंसे एक पत्थर को निकालने उसने अपना हाथ क्रेशर में डाल दिया।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 26, 2018, 06:16 AM IST

क्रशर में फंसकर हाथ कंधे से हुआ अलग, कटे हिस्से को लेकर पहुंचे अस्पताल

जशपुरनगर.गुरुवार की दोपहर क्रशर मशीन में फंसकर एक मजदूर का हाथ कटकर पूरी तरह अलग हो गया। वहां काम कर रहे अन्य लोग आनन-फानन में 108 संजीवनी एंबुलेंस में लेकर घायल को जिला अस्पताल पहुंचे। लोग जुड़ने की संभावना से कटे हुए हाथ को भी अपने साथ लेकर आए थे। जिला अस्पताल से तत्काल उसकी जान बचाने और प्राथमिक उपचार के बाद बाहर रेफर कर दिया गया।

हाथ बिल्कुल क्रश हो चुका है
- जानकारी के मुताबिक, पत्थलगांव थाना क्षेत्र सुकरापारा का रहने वाला विमलेश यादव (35) दुलदुला पतराटोली स्थित एक प्लांट में काम कर रहा था। काम के दौरान एक पत्थर क्रशर मशीन में फंस गया था। जिसे निकालने के लिए उसने अपना हाथ मशीन में डाल दिया।

- मशीन में फंसकर उसका हाथ कंधे से बिल्कुल अलग हाे गया। उसकी चीख सुनकर आस-पास के लोग वहां पहुंचे। लोगों ने उसे एंबुलेंस से जशपुर जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। साथ ही कटे हुए हाथ को भी वे अपने साथ लाए थे।

- जहां उसका उपचार कर रहे अस्थि रोग सर्जन डॉ. अनुरंजन टोप्पो ने सबसे पहले खून की नली को बंद कर उसकी जान बचाई। इसके बाद जरूरी चिकित्सा कर उसे रेफर कर दिया। उन्होंने बताया कि हाथ बिल्कुल क्रश हो चुका है, उसके जुड़ने की संभावना नहीं के बराबर है।

सूचना पर पहले ही पहुंच गई थी पुलिस

इस घटना की सूचना कोतवाली टीआई जीएस दुबे को फोन पर मिल चुकी थी। कागजी कार्रवाई के चलते विलंब न हो, इसके लिए उन्होंने पहले से ही पुलिस कर्मियों को अस्पताल रवाना कर दिया था। घायल के प्राथमिक उपचार के दौरान ही पुलिस ने अपनी कागजी कार्रवाई पूरी कर ली, जिसके बाद घायल को रांची ले जाया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: krshr mein fnskar haath kndhe se hua alga, kte hisse ko lekar pahunche aspatal
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×