Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Mother Cremation Her Daughter In Unique Way

महिला ने इस तरीके से किया बेटी का अंतिम संस्कार, गैंगरेप के बाद हुई थी हत्या

6 नवंबर से लापता लड़की की करीब डेढ़ महीने बाद शनिवार को गरगा नदी से हाथ-पैर बंधी लाश बरामद हुई।

bhaskar news | Last Modified - Dec 27, 2017, 03:52 AM IST

  • महिला ने इस तरीके से किया बेटी का अंतिम संस्कार, गैंगरेप के बाद हुई थी हत्या
    +2और स्लाइड देखें
    पुआल से बनाई गई डेडबॉडी के पास बैठी पीड़िता की मां सुमन देवी।

    भुरकुंडा (रामगढ़). किरण कुमारी नाम की लड़की की डेडबॉडी मिलने के बाद पुलिस ने लावारिस मानकर उसे दफना दिया था। अब मां सुमन ने मंगलवार को धर्म निभाने के लिए पुआल से बेटी का शव बनाया। फिर नदी के किनारे अंतिम संस्कार किया। पिता ने बेटी को मुखाग्नि दी। बता दें कि धर्म परिवर्तन से इनकार करने पर गैंगरेप के बाद किरण की हत्या की गई थी। वो करीब डेढ़ महीने से लापता थी। शनिवार को हाथ-पैर बंधी उसकी डेडबॉडी बरामद हुई थी। इसके बाद पुलिस ने लड़की के कथित प्रेमी को अरेस्ट कर मामले से पर्दा उठाया था।

    6 नवंबर से लापता थी लड़की

    - रामगढ़ जिला के भदानीनगर ओपी के महुआटोला की रहने वाली लड़की की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। 6 नवंबर से लापता लड़की की करीब डेढ़ महीने बाद शनिवार को गरगा नदी से हाथ-पैर बंधी लाश बरामद हुई।

    - पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या से पहले लड़की के साथ गैंगरेप की बात सामने आने के बाद बोकारो जिले के बालीडीह थाना पुलिस ने किरण के कथित प्रेमी आदिल अंसारी को रविवार शाम गिरफ्तार किया गया।

    आरोपी बोला- एक घंटे तक किरण की चीख-पुकार आती रही, फिर बंद हो गई

    - पुलिस पूछताछ में आदिल ने बताया- किरण के साथ भागकर उसने शादी की थी। शादी के बाद वह बोकारो स्थित मौसा के घर पहुंचे। मौसा ने फोन कर इसकी सूचना मेरे पिता असगर अली को दी।

    - फिर पिता और मौसा ने हम दोनों से कहा- दोनों का अलग धर्म है। इस लड़की को पहले इस्लाम में दाखिल कराओ फिर शादी कर सकते हो। ऐसा नहीं कर सकते तो लड़की को छोड़ दो। इस पर हमदोनों ने कहा साथ जीवन बिताएंगे। इसके बाद पिता और मौसा ने कहा कि ठीक है, चलो तुमलोगों को राजाबेडा हाॅल्ट छोड़ देते है। वहां से तुमलोग ट्रेन पकड़कर रांची चले जाना।

    - हमलोगों को पिता और मौसा जंगल के रास्ते से ले जाने लगे। किरण ने कहा कि जंगल के रास्ते से कहां ले जा रहे हैं पापा जी, अगर स्टेशन दूर है तो गाड़ी ले लिए होते।

    - इसपर अब्बा ने किरण से कहा- "जिंदगी काफी बड़ी होती है। बस इतने में ही घबरा गई। आगे बहुत कुछ देखना बाकी है।" इतना कहने के साथ अब्बा ने मुझे पकड़ लिया और मौसा किरण को जबरन खींचते हुए नीचे जंगल की ओर ले गए। एक घंटे तक किरण की चीख-पुकार आती रही, फिर बंद हो गई।

    मां बोली-आदिल के परिजनों को पता था सारा मामला

    लड़की की मां का आरोप है कि मामला आदिल के पिता और परिजनों को पता था। मेरे पास वे लोग आए थे और पैसे का लालच देकर कहा था कि अपनी बेटी को खोजो। लेकिन हमलोगों ने कहा कि आपका बेटा लेकर गया है। आपलोग पता कीजिए। हमलोगों को एक महीने से गुमराह करते रहे।

  • महिला ने इस तरीके से किया बेटी का अंतिम संस्कार, गैंगरेप के बाद हुई थी हत्या
    +2और स्लाइड देखें
    पीड़िता की फाइल फोटो।
  • महिला ने इस तरीके से किया बेटी का अंतिम संस्कार, गैंगरेप के बाद हुई थी हत्या
    +2और स्लाइड देखें
    पुआल से बनाई किरण की डेडबॉडी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Mother Cremation Her Daughter In Unique Way
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×