--Advertisement--

वेलेन्टाइन डे पर तलाक लेने कोर्ट पहुंची नेशनल शूटर, कहा- पति ने धोखे से की शादी

कोर्ट में सुनवाई के दौरान उसका पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल भी हाजिर था।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 12:53 AM IST
कोर्ट पहुंची नेशनल शूटर तारादेव और उनकी शादी की फाइल फोटो। कोर्ट पहुंची नेशनल शूटर तारादेव और उनकी शादी की फाइल फोटो।

रांची. नेशनल लेवल की शूटर तारा शाहदेव की ओर से तलाक के लिए दाखिल किए गए केस में बुधवार को रांची की फैमिली कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान उसका पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल भी हाजिर था। 4 साल बाद तारा और रंजीत कोहली आमने-सामने हुए। सुनवाई के दौरान तारा ने कहा कि उसके पति ने उससे धोखे से शादी की। बता दें कि ये केस झारखंड समेत पूरे देश में काफी चर्चित रहा है।

पति की हकीकत सामने अाते ही शुरू हो गया जुल्म
- बता दें कि नेशनल लेवल की शूटर तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी। तारा का आरोप है कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था और बाद में उसे हैरेस कर उसका धर्म बदलवाया।
- तारा को जब पता चला कि उसके पति का नाम रंजीत सिंह नहीं बल्कि रकीबुल हसन है, तो उस पर जुल्म होने लगा। उसपर जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया जाने लगा। इस मामले की जांच सीबीआई ने 2015 में शुरू की थी। रंजीत 27 अगस्त 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर है। मई 2017 में मामले में सीबीआई ने चार्जशीट दायर की थी।

- तारा के पति रंजीत सिंह कोहली पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप भी है। वहीं, सास कौशर और झारखंड हाईकोर्ट के तत्कालीन रजिस्ट्रार (विजिलेंस) मुश्ताक अहमद पर आपराधिक साजिश रचने का आरोप है।

शादी के दिन तक उसे पता नहीं था कि वह गैर हिंदू है

- तारा की ओर से 40 पेज के बयान की अर्जी दाखिल की गई। तारा ने गवाही देते हुए कहा है कि उसके साथ रंजीत सिंह कोहली ने धोखे से शादी की। शादी के दिन तक उसे पता नहीं था कि वह गैर हिंदू है। उसने खुद को सिख बताकर शादी की थी।

- तारा के मुताबिक, शादी के दौरान हाईकोर्ट के उस वक्त के विजिलेंस रजिस्ट्रार मुश्ताक अहमद भी मौजूद थे। वे भी मुझे शादी करने के लिए प्रेरित करते रहे। उन्होंने मुझे समझाया।

- गवाही देते हुए तारा की ओर से कई दस्तावेज कोर्ट में दाखिल किए गए। इसमें खास तौर पर मामले में दर्ज एफअाईआर और धारा 164 के तहत बयान की कॉपी और मामले में सीबीआई जांच के बारे में हाईकोर्ट द्वारा दी गई आदेश की कॉपी भी दाखिल की गई।

कोहली ने मामले से हट कर सवाल पूछे तो कोर्ट ने रोका

तारा की गवाही के दौरान रंजीत सिंह कोहली ने उसका क्रॉस एग्जामिनेशन किया। इस दौरान कोहली द्वारा फैक्ट्स से हटकर सवाल पूछे जाने पर फैमिली कोर्ट के जज बीके गौतम ने उन्हें रोका। कोर्ट ने कोहली को निर्देश दिया कि मामले से जुड़े सवाल ही पूछा जाए। अगली गवाही और तारा शाहदेव का क्रॉस एग्जामिनेशन 16 फरवरी को होगा।

सास और पति धमकी देते थे कि तुम्हारे सामने दो ही रास्ते हैं

- 2014 में पति और सास की कैद से बच कर निकली नेशनल शूटर तारा शाहदेव ने बताया था कि दोनों उन्‍हें इस्लाम धर्म कबूल कराने पर अड़े थे। सास और पति धमकी देते थे कि तुम्हारे सामने दो ही रास्ते हैं, या तो इस्लाम धर्म स्वीकार करो या फिर बिस्तर यही रहेगा, लेकिन आदमी बदलता रहेगा।

- पीड़िता तारा ने शिकायत में कहा था कि, उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी। दोनों कहते थे, सिंदूर लगाया तो हाथ तोड़ देंगे।

शादी से पहले इम्प्रैस करने अपनाता था हथकंडे
- तारा ने बताया, 'शादी से पहले बड़े अफसरों के साथ पीली बत्ती की गाड़ी में आने वाला रकीबुल शादी के लिए इम्प्रैस करने कई हथकंडे अपनाता था। धौंस जमाने के लिए वह शूटिंग रेंज के लिए फंड दिलवाने का भरोसा दिलाता था, पर शादी होते ही पहली रात में ही उसके रंग-रूप बदल गए और असलियत सामने आने लगी।'
- तारा ने बताया, 'रकीबुल कई लड़कियों के साथ खेलता था। एक दिन मेरे सामने ही दो-तीन बच्चियां आई थीं। कुछ दिनों के बाद कॉलेज में उनका एडमिशन करा दिया गया। रकीबुल उनके साथ अच्छे से तैयार होकर जाता था। उसके बाद वह गार्ड मंगा लेता था। उसके लिए गाड़ी भेज दी जाती थी। वह ऐसा व्यवहार करता था कि मानो उससे अच्छा और प्रभावशाली इंसान हो ही नहीं सकता।

4 साल बाद तारा और रंजीत कोहली उर्फ रकीबुल आमने-सामने हुए। 4 साल बाद तारा और रंजीत कोहली उर्फ रकीबुल आमने-सामने हुए।
तारा शाहदेव का पति रंजीत 27 अगस्त 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर है। तारा शाहदेव का पति रंजीत 27 अगस्त 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर है।
शादी के कुछ वक्त बाद ही तारा ने पति और सास पर लगाए थे जुल्म करने के आरोप। शादी के कुछ वक्त बाद ही तारा ने पति और सास पर लगाए थे जुल्म करने के आरोप।
नेशनल लेवल की शूटर हैं तारा शाहदेव। नेशनल लेवल की शूटर हैं तारा शाहदेव।
तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी। तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी।
तारा ने शिकायत में कहा था कि, उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी। तारा ने शिकायत में कहा था कि, उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी।
तारा का आरोप है कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था और बाद में उसे हैरेस कर उसका धर्म बदलवाया। तारा का आरोप है कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था और बाद में उसे हैरेस कर उसका धर्म बदलवाया।
X
कोर्ट पहुंची नेशनल शूटर तारादेव और उनकी शादी की फाइल फोटो।कोर्ट पहुंची नेशनल शूटर तारादेव और उनकी शादी की फाइल फोटो।
4 साल बाद तारा और रंजीत कोहली उर्फ रकीबुल आमने-सामने हुए।4 साल बाद तारा और रंजीत कोहली उर्फ रकीबुल आमने-सामने हुए।
तारा शाहदेव का पति रंजीत 27 अगस्त 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर है।तारा शाहदेव का पति रंजीत 27 अगस्त 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर है।
शादी के कुछ वक्त बाद ही तारा ने पति और सास पर लगाए थे जुल्म करने के आरोप।शादी के कुछ वक्त बाद ही तारा ने पति और सास पर लगाए थे जुल्म करने के आरोप।
नेशनल लेवल की शूटर हैं तारा शाहदेव।नेशनल लेवल की शूटर हैं तारा शाहदेव।
तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी।तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी।
तारा ने शिकायत में कहा था कि, उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी।तारा ने शिकायत में कहा था कि, उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी।
तारा का आरोप है कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था और बाद में उसे हैरेस कर उसका धर्म बदलवाया।तारा का आरोप है कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था और बाद में उसे हैरेस कर उसका धर्म बदलवाया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..