Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Neeraj Singh Death Shuttout In Dhanbad

67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान

इंजीनियर से बना बिल्डर फिर डिप्टी मेयर, गाड़ियों के नंबर्स से होती थी पहचान

Bhaskar News | Last Modified - Mar 22, 2018, 12:39 PM IST

    • पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह

      धनबाद (रांची). शहर के पूर्व डिप्टी मेयर और कांग्रेस नेता नीरज सिंह की शूटरों ने 22 मार्च 2017 की रात को गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हमले में नीरज सिंह को लगभग 25 गोलियां लगीं थीं। बता दें कि हमलावरों ने AK-47 से नीरज सिंह की गाड़ी पर हमला किया था जिसमें नीरज समेत 4 लोगों की मौत हो गई थी। नीरज सिंह की अपने एरिया में बहुत धाक थी इस कारण उसकी हत्या के बाद सभी लोग शॉक्ड हो गए थे। नीरज सिंह के फ्यूनरल में पूरा शहर उमड़ा था।

      कैसे हुई थी हत्या

      -धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर और कांग्रेस नेता नीरज सिंह और उनके तीन समर्थकों को हमलावरों ने 21 मार्च 2017 की शाम गोलियों से भून दिया था।
      -यह हमला उस वक्त हुआ, जब नीरज सिंह अपनी गाड़ी से स्टील गेट स्थित रघुकुल आवास जा रहे थे।
      -नीरज सिंह की गाड़ी जैसे ही स्टील गेट पहुंच कर ब्रेकर पर धीमी हुई, हमलावरों ने तीन तरफ से उन्हें घेर लिया।
      -जब तक नीरज सिंह कुछ समझ पाते हमलावरों ने उन पर गोलियों की बरसात कर दी। एक के बाद एक 100 राउंड फायरिंग की।
      -अगली सीट पर बैठे नीरज सिंह को 25 गोलियां लगी, जबकि उनकी बाॅडी पर 67 गोली लगने के निशान मिले।
      -सरेआम हुए इस हमले में उनके निजी बॉडीगार्ड मुन्ना तिवारी, चालक घलटू और करीबी समर्थक अशोक यादव की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी।

      नीरज के काफिले में एक साथ चलती थी 10 गाड़ियां

      - बता दें कि नीरज सिंह के काफिले में एक ही नंबर की करीब 10 गाड़ियां एक साथ चलती थी।
      - नीरज की गाड़ियों का नंबर 4500 होता था और सभी गाड़ियां एक ही रंग की होती थी।
      - आपको बता दें कि नीरज के बड़े भाई और विधायक संजीव सिंह के भी काफिले में एक नंबर की गाड़ियां चलती हैं।
      - संजीव की गाड़ियों का नंबर 7007 है। उनके काफिले में भी कई गाड़ियां होती हैं।

      शरीर का ऊपरी हिस्सा हो गया था छलनी

      - शव के पोस्टमार्टम में नीरज के शरीर से 17 गोली निकाली गई थीं।
      - नीरज के शरीर में गोलियों से 67 छेद हो गए थे।
      - पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों की टीम के अनुसार 7-8 गोलियां नीरज के शरीर के आर-पार हो गई थीं।

      शरीर के लगभग पूरे बॉडीपार्ट डैमेज थे

      - नीरज को सभी गोलियां कमर से ऊपर लगी थीं और गले से ऊपर चेहरे और सिर में 4-5 गोलियां लगने के निशान हैं।
      - पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार नीरज के शरीर का ऊपरी हिस्सा पूरी तरह छलनी हो गया था।
      - शरीर के हर जरूरी बॉडीपार्ट (ऑर्गन) डैमेज थे। हार्ट, चेस्ट, बैक, स्टॉमेक, ब्रेन, चेहरा सभी अंगों में गोलियां लगी थीं।
      - एक हाथ में गोली लगने और दूसरे में फ्रैक्चर भी होने की पुष्टी पीएम रिपोर्ट में हुई है।

      सपोर्टरों को लगी थीं 6-7 गोलियां

      - गाड़ी में नीरज सिंह के साथ मौजूद अन्य 3 लोगों को भी 6-7 गोलियां मारी गई।
      - पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, अशोक यादव और बॉडीगार्ड मुन्ना तिवारी के शरीर से 2-2 तथा ड्राइवर चंद्र प्रकाश के शरीर से 3 बुलेट निकाली गई।
      - ड्राइवर को पेट, छाती, हाथ और सिर में गोली लगी थी।

    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह एक दबंग नेता थे।
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      इस हाल में मिली थी पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की लाश।
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह अपनी वाइफ के साथ। (फाइल)
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      इस गाड़ी में हुई थी हत्या।
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की अंतिम यात्रा।
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      हत्या के बाद पुलिस ने चारों ओर से नाकाबंदी कर दी थी।
    • 67 गोली मारकर की थी इस दबंग मेयर की हत्या, गाड़ियों के नंबर से थी इनकी पहचान
      +8और स्लाइड देखें
      फ्यूनरल में पूरा शहर शामिल हुआ था।
    Topics:
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×