--Advertisement--

रिम्स में मरीज कर रहा था छुट्टी की जिद, नहीं मिली तो उठाया ये कदम

रिम्स के डॉक्टर ने अस्पताल से छुट्टी नहीं दी।

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2017, 05:46 AM IST
Patient did suicides ranchi

रांची। रिम्स के डॉक्टर ने अस्पताल से छुट्टी नहीं दी, तो बोकारो चास के डुमरदगा गांव के जन्मेजय महतो (42) ने शनिवार को तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। गिरते ही उसकी मौत हो गई। रिम्स के न्यूरो वार्ड में जन्मेजय को परिवार वालों ने शुक्रवार रात उसे भर्ती कराया था। उसका इलाज न्यूरो वार्ड में डॉ. अनिल कुमार कर रहे थे।

छुट्टी की कर रहा था जिद

- शनिवार दोपहर डॉ अनिल जब उसे देखने के लिए वार्ड में आए, तो वह उनसे छुट्टी देने की जिद करने लगा। लेकिन जन्मेजय के भाई बनमाली महतो के आग्रह पर डॉक्टर ने कहा कि उसे सोमवार को छुट्टी दे दी जाएगी। इससे वह नाराज हो गया। जब डॉक्टर वहां से निकले, तो वह उनके पीछे-पीछे रिम्स की गैलरी में गए। पीछे-पीछे उनकी पत्नी भी थीं, जिन्हें धक्का देते हुए वह नीचे कूद गया।

- भाई बनमाली ने बताया कि जन्मेजय का इलाज 15 दिनों से रिनपास में चल रहा था। लेकिन उसने शुक्रवार को कहा कि उसके सिर में दर्द हो रहा है और पांच दिनों से उसे भूख भी नहीं लग रही है। इसलिए उसे भर्ती कराया था।

X
Patient did suicides ranchi
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..