Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Ranchi Girl Payal Keshri Became Yoga Teacher In Foreign

छोटे शहर की लड़की विदेश में सिखाती है योगा, कभी पढ़ाई करने लेना पड़ा था बैंक से लोन

योग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने के बाद पायल के पास सिंगापुर चैंपियनशिप में देने एक लाख रुपए नहीं थे।

सैयद शहरोज कमर | Last Modified - Mar 05, 2018, 12:42 AM IST

  • छोटे शहर की लड़की विदेश में सिखाती है योगा, कभी पढ़ाई करने लेना पड़ा था बैंक से लोन
    +2और स्लाइड देखें
    पायल का लक्ष्य अब इंटरनेशनल चैंपियनशिप जीतना है।

    रांची(झारखंड).रांची की रहने वाली पायल केसरी की कहानी काफी संघर्षों से भरी हुई है। कभी एक लाख रुपए फीस न चुका पाने के चलते वह एक इंटरनेशनल टूर्नामेंट में शामिल नहीं हो सकी थी। यहां तक की पढ़ाई के लिए भी उसे बैंक से लोन लेना पड़ा था। ऐसे हालात में भी उसने हार नहीं मानी और आज वियतनाम में महिलाओं को दे रही योग सिखा रही हैं।

    350 लड़कियों को पछाड़ते हुए चैंपियनशिप में जीता था गोल्ड मेडल

    पिस्का मोड़ की पायल ने रांची के ही स्कूलिंग मनन विद्या से की। नवंबर-2017 में होटवार स्थित खेलगांव में योग फेडरेशन ऑफ इंडिया के 43वें योग चैंपियनशिप में 28 राज्यों की 350 लड़कियाें ने हिस्सा लिया था। पायल केसरी तब नोएडा, उत्तरप्रदेश में रहकर ग्रैजुएशन कर रही थी। पायल ने उन 350 लड़कियों को पछाड़ते हुए चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था। इसके साथ ही उनका सिलेक्शन सिंगापुर में होने वाली इंटरनेशनल चैंपियनशिप के लिए भी हो गया, लेकिन तब चैंपियनशिप में देने के लिए एक लाख रुपए नहीं थे। पढ़ाई के लिए उन्होंने पहले ही बैंक लोन ले रखा था।

    ऐसे पाया जिंदगी में ये मुकाम

    महज 4 साल से जुनून की तरह योग कर रही पायल थोड़ी देर के लिए हताश भी हुई। तब उसकी मां अनिता केसरी और पिता सुनील केसरी ने उसे मोटीवेट किया। अाखिरकार दिसंबर में वियतनाम में योग टीचर की वैकेंसी निकली, तो पायल ने इसके लिए अप्लाई कर दिया। वह आज क्वांगनई शहर के शिवम योगा एंड डांस सेंटर में वियतनामी महिलाओं को योग सिखा रही हैं।

    अब इंटरनेशनल चैंपियनशिप जीतना लक्ष्य

    पायल कहती हैं कि मैं अब पैसा जमाकर इंटरनेशनल चैंपियनशिप में जाना चाहती हूं। वियतनाम आकर उन्हें इस बात ने इंस्पायर किया कि यहां लड़कियां हर मामले में आगे हैं। लगभग सभी महिलाएं आत्मनिर्भर हैं। उनकी कमाई से ही घर चलता है। पुरुष नाममात्र का काम करते हैं।

  • छोटे शहर की लड़की विदेश में सिखाती है योगा, कभी पढ़ाई करने लेना पड़ा था बैंक से लोन
    +2और स्लाइड देखें
    क्वांगनई शहर में वियतनामी महिलाओं को याेग सिखाती पायल केसरी।
  • छोटे शहर की लड़की विदेश में सिखाती है योगा, कभी पढ़ाई करने लेना पड़ा था बैंक से लोन
    +2और स्लाइड देखें
    ये फोटो पायल ने सोशल मीडिया पर शेयर की है।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Ranchi Girl Payal Keshri Became Yoga Teacher In Foreign
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×