--Advertisement--

बढ़ सकती है राजबाला की मुसीबतें, सीएस की पोस्ट से हटाने के लिए हाईकोर्ट में PIL

राजबाला वर्मा को चारा घोटाले में आरोपी होने की बात कहते हुए स्पष्टीकरण मांगा था। पर उन्होंने कभी जवाब नहीं दिया।

Danik Bhaskar | Jan 10, 2018, 07:52 AM IST
झारखंड की मुख्य सचिव राजबाला व झारखंड की मुख्य सचिव राजबाला व

रांची. मुख्य सचिव राजबाला वर्मा को पद से हटाने के लिए मंगलवार को हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। पंकज कुमार यादव की ओर से दायर याचिका में कहा गया है कि पूर्व मुख्य सचिव आरएस शर्मा ने 2014 में ही राजबाला वर्मा को चारा घोटाले में आरोपी होने की बात कहते हुए स्पष्टीकरण मांगा था। पर उन्होंने कभी जवाब नहीं दिया। इसके बाद वे प्रमुख पदों पर रहीं और मुख्य सचिव भी बन गईं। इनके समय में मोमेंटम झारखंड में भी भारी लूट हुई। अभी भी गड़बड़ियां हो रही हैं। इसलिए उन्हें तत्काल मुख्य सचिव पद से हटाया जाए। उन्हें गलत तरीके से प्रोन्नति देने और मुख्य सचिव बनाने की पूरी गड़बड़ी की जांच हो।


पंकज कुमार के वकील राजीव कुमार के मुताबिक याचिका में यह भी कहा गया है कि राजबाला वर्मा ने निगरानी आयुक्त रहते हुए लगभग 19 करोड़ रुपए के घोटाले में भी मैनहर्ट कंपनी के खिलाफ निगरानी में एफआईआर का आदेश नहीं दिया था। तत्कालीन आईजी (विजिलेंस) एमवी राव ने राजबाला वर्मा से कार्रवाई की अनुमति मांगी थी।