Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Police Operation To Catch Thieves In Ruined House

यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन

एक घर में घुसे चोरों को पकड़ने के लिए पुलिस ने दिखाई जबरदस्त मुस्तैदी।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 15, 2018, 04:42 AM IST

  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    पुलिस ने पूरी तैयारी के साथ की घर की घेराबंदी।

    धनबाद. हाउसिंग काॅलोनी के एक बंद घर में बुधवार को दिनदहाड़े चोर घुस गए। उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस ने जबरदस्त मुस्तैदी दिखाई। घर की घेराबंदी तो की ही, चोरों के पास हथियार होने की आशंका के मद्देनजर पास के दो घरों की छतों पर स्नाइपर भी तैनात कर दिए। इसकी पूरी तैयारी की गई थी कि अगर चोरों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया, तो उनसे हर तरह से निबटा जा सके।

    दो घंटे चले ऑपरेशन के बाद मकान में घुसी पुलिस

    चोर जिस घर में घुसे थे, वह डीजीएमएस से रिटायर हुए हरिहर नाथ का है। उनके बेटे शिवनंदनाथ धनबाद सेल्स टैक्स में असिस्टेंट कमिश्नर हैं। मकान करीब चार सालों से बंद है। उससे सटा राजेश गुप्ता का मकान है। बुधवार का दिन में राजेश की पत्नी को पड़ोसी के घर से कुछ आवाजें सुनाई दीं। उन्होंने अपने बेटे से यह बात कही। बेटा छत पर गया, ताे हरिहर नाथ के मकान के पिछले हिस्से में कोई बैठा दिखा। उसने चाचा को यह बात बताई। फिर पुलिस को फोन किया। साथ ही मोहल्ले के गार्ड और अन्य लोगों के साथ मकान को चारों तरफ से घेर लिया। कुछ ही देर में थाने की टीम पहुंच गई। दो स्नाइपरों को भी बुलाया गया। दो घंटे चले ऑपरेशन के बाद मकान में घुसे तीनों नाबालिग चोरों को पकड़ लिया।

    उलटा निकला पूरा मामला

    हालांकि, मामला वैसा बिल्कुल नहीं निकला, जैसी आशंका पुलिस को थी। तीनों चोर नाबालिग थे और कचरा बीनने का काम करते हैं। घर को बंद देख चोरी करने के इरादे से घुस गए थे। उनके पास किसी तरह का हथियार भी नहीं मिला। सिर्फ दरवाजा और अलमारी तोड़ने के कुछ औजार मिले। बहरहाल, पुलिस ऑपरेशन के अंदाज की पड़ोसियों में काफी चर्चा होती रही।

    वेंटिलेटर के रास्ते अक्सर घर में घुसते थे नाबालिग चोर

    घर में घुसने के बाद पुलिस ने पाया कि वहां सामान बिखरा पड़ा है। कचरा चुनने वाले अक्सर वेंटिलेटर से घर में घुसते थे और धीरे-धीरे कर कुछ सामान चुरा ले जाते थे। घर काफी दिनों से बंद होने की वजह से उसमें झाड़ियां भर गई थीं। पड़ोसियों को झाड़ियों के बीच रास्ता जैसा दिखा, तो उन्हें शक हुआ था।

  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    चोरों के पास हथियार होने की आशंका के मद्देनजर पुलिस ने लिया ये फैसला।
  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    पुलिस ने 2 घंटे की मशक्क्त के बाद पाई कामयाबी।
  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    करीब चार सालों से बंद था ये मकान।
  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    मकान से पकड़े गए तीनों चोर नाबालिग थे और कचरा बीनने का काम करते हैं।
  • यहां चोरों को पकड़ने पुलिस ने लगाई छतों पर स्नाइपर, दो घंटे चला ऑपरेशन
    +5और स्लाइड देखें
    पुलिस ऑपरेशन के अंदाज की पड़ोसियों में काफी चर्चा होती रही।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×