--Advertisement--

एक ही पोर्टल से 5 यूनिवर्सिटी के 65 कॉलेजों में दाखिला, पोर्टल पर डालनी होगी च्वाइस

इस पोर्टल के माध्यम से छात्र अब ऑनलाइन एडमिशन फॉर्म भर सकेंगे।

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 08:09 AM IST
राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने रा राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने रा

रांची. राज्य के पांचों यूनिवर्सिटी के 65 कॉलेजों में अगले साल से ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में अब चांसलर पोर्टल से एडमिशन होंगे। राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने गुरुवार को राजभवन में सभी यूनिवर्सिटी के कुलपतियों की बैठक में इस पोर्टल काे लॉन्च किया। इस पोर्टल के माध्यम से छात्र अब ऑनलाइन एडमिशन फॉर्म भर सकेंगे। एडमिशन की जानकारी भी ले सकेंगे। इसके लिए छात्रों को पोर्टल पर अपनी मार्कशीट, कॉलेजों का च्वाइस और अन्य दस्तावेज डालने होंगे। नंबर के आधार पर जिस कॉलेज में नामांकन हो सकता है, इसकी जानकारी पोर्टल पर ही मिल जाएगी। एडमिशन के अलावा परीक्षा फॉर्म भरने और रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी इसी पोर्टल पर मिलेगी। इससे छात्रों को लंबी लाइन और भागदौड़ से राहत मिलेगी।


बैठक में उच्च शिक्षा सचिव अजय कुमार सिंह ने पाेर्टल के माध्यम से एडमिशन प्रक्रिया की जानकारी दी। बताया कि छात्र पोर्टल पर एडमिशन फॉर्म डालेंगे। अंक और आरक्षण के आधार पर मेरिट लिस्ट बनेगा और एडमिशन हो जाएगा। बैठक में राज्यपाल के प्रधान सचिव एसके सतपथी, कल्याण सचिव हिमानी पांडेय, रांची विवि के वीसी डाॅ. रमेश पांडेय, नीलांबर पितांबर विवि के वीसी डॉ. एसएन सिंह, विनोबा भावे विवि के वीसी डाॅ. रमेश शरण, जेपीएससी के सचिव जगजीत सिंह, भू राजस्व सचिव केके सोन आदि मौजूद थे।

राज्यपाल बोलीं-दो हफ्ते में नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करें
राज्यपाल ने सभी कुलपतियों को दो सप्ताह में कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर असिस्टेंट प्रोफेसरों की नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करें। पहले 15 नवंबर तक यह प्रक्रिया पूरी करने को कहा गया था। कोल्हान और सिदो-कान्हू यूनिवर्सिटी में ही नियुक्ति हो पाई। तीन यूनिवर्सिटी में केवल इंटरव्यू हुआ। रोस्टर क्लियरेंस नहीं हो पाया। इस पर राज्यपाल ने नाराजगी जताई। और दो हफ्ते में नियुक्ति के निर्देश दिए।

स्थाई शिक्षकों की नियुक्ति प्रस्ताव जेपीएससी को भेजें

राज्यपाल ने कांट्रेक्ट शिक्षकों के अलावा सभी विश्वविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसरों के रिक्त 1140 पदों पर स्थायी नियुक्ति का भी निर्देश दिया है। विश्वविद्यालयों को इसके लिए जल्द से जल्द जेपीएससी को प्रस्ताव भेजने को कहा गया है। कुलपतियों ने बताया कि रिक्त पदों को चिह्नित कर लिया गया है। रोस्टर क्लियर होते ही प्रस्ताव जेपीएससी को भेज दिया जाएगा।