--Advertisement--

झारखंड के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में बनेंगी 1760 किमी लंबी 768 सड़कें

नक्सल प्रभावित राज्यों के लिए अलग सड़क योजनाएं।

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 04:56 AM IST

रांची। केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री रामकृपाल यादव ने कहा कि नक्सल प्रभावित राज्यों में सड़क निर्माण के लिए केंद्र ने विशेष योजना बनाई है। इसके लिए 90 हजार करोड़ रुपए मंजूर किए गए हैं। यह योजना राज्य में सड़क निर्माण के लिए चलाई जा रही योजनाओं से अलग है। इसके तहत झारखंड में 768 सड़कें बनाई जाएंगी, जिनकी लंबाई 1760 किलोमीटर होगी। इसे पांच साल में पूरा किया जाएगा। रामकृपाल यादव शनिवार को विभाग की समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

- उन्होंने कहा कि झारखंड में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत बन रही सड़कों के लिए पैसों की कमी नहीं होने दी जाएगी। यहां आठ हजार किमी सड़क का निर्माण लंबित था, जो घटकर छह हजार किमी हो गया है। पहले रोजाना 75 से 80 किमी सड़क का निर्माण होता था, अब यह बढ़कर 130-135 किमी हो गई।
- झारखंड में मनरेगाकर्मियों का डीबीटी के माध्यम से 95 फीसदी भुगतान हो रहा है। इससे बिचौलिए खत्म हो गए हैं। डीबीटी के बाद राज्य में एक लाख फर्जी जॉब कार्ड रद्द किए गए हैं। मनरेगा में केंद्र की अोर से 48 हजार रु. खर्च किए जा रहे हैं।

राज्य में 2019 तक 4.50 लाख लोगों को घर मिलेगा

- रामकृपाल यादव ने कहा कि झारखंड में 2019 तक 4.50 लाख लोगों को पक्का मकान देना है। इनमें से 70 हजार लोगों का गृह प्रवेश कराया जा चुका है। देश भर में करीब एक करोड़ लोगों को पक्का मकान देना है। सरकार की कोशिश है कि 2022 तक गरीबों को मकान मिल जाए।