--Advertisement--

FB पर की महिलाओं की निर्वस्त्र तस्वीरें वायरल, अब कहा- उनकी मर्जी से किया एेसा

महिलाओं ने कहा था कि उन्हें आंदोलन से जुड़ी निर्वस्त्र तस्वीरें FB पर डालने की जानकारी न थी।

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 08:45 AM IST
19 दिसंबर को भास्कर ने प्रमुखता 19 दिसंबर को भास्कर ने प्रमुखता

धनबाद. फेसबुक पर महिलाओं का निर्वस्त्र तस्वीर वायरल करने के आरोपी रामाश्रय सिंह ने धनबाद थाना को स्पीड पोस्ट के माध्यम से अपना पक्ष भेजा है। उन्होंने पुलिस से कहा है कि सभी महिलाओं की सहमति से तस्वीर वायरल की गई है। उन्होंने पुलिस से खुद को आरोप मुक्त कराने की गुहार भी लगाई है। साथ ही नौ महिलाओं का शपथ पत्र भी पुलिस को सौंपा है। दो पेज के पत्र में रामाश्रय ने समाचार पत्रों की कतरन भी पुलिस को दी है। अखबार में छपी खबरों का भी उन्होंने अपने पत्र में उल्लेख करते हुए कहा है कि प्रभावित व्यक्तियों की पूर्ण सहमति के बाद उक्त तस्वीर ली गई थी और विचार-विमर्श के बाद उसे वायरल किया गया था।

24 जनवरी को आत्मदाह करने की दी धमकी

रामाश्रय सिंह द्वारा पुलिस को उपलब्ध कराए गए शपथ पत्र में महिलाओं ने कहा है कि उन्होंने स्वेच्छा से फेसबुक पर पूर्ण निर्वस्त्र तस्वीर वायरल कराया है। नौ महिलाएं 24 जनवरी को आत्मदाह करने के लिए तैयार हैं। वे न तो अब खामोश रहेंगी और न ही किसी का इंतजार करेंगी।

महिलाओं ने कहा था- धोखे में रख डाली गई तस्वीरें

रामाश्रय सिंह ने महिलाओं को आगे कर स्वयं को बचाने का प्रयास किया है। भास्कर पड़ताल में महिलाओं ने कहा था कि उन्हें आंदोलन से जुड़ी निर्वस्त्र तस्वीर सोशल मीडिया पर डालने की जानकारी न थी। इसके लिए नेता रामाश्रम सिंह को जिम्मेवार ठहराया था। महिलाओं का कहना था कि उन्हें धोखे में रखकर ऐसा किया गया। तस्वीर बाहर आने से वे शर्मसार हैं।

पुलिस तर्क से संतुष्ट नहीं, गिरफ्तार होंगे रामाश्रय

रामाश्रय सिंह के जवाब से पुलिस संतुष्ट नहीं है। पुलिस उन्हें गिरफ्तार करेगी। पुलिस की विशेष टीम को रामाश्रय सिंह की गिरफ्तारी में लगाया गया है। पुलिस का कहना है कि उनके घर पर अब तक चार पर दबिश दी गई है। रामाश्रय सिंह घर से फरार हैं। धनबाद पुलिस को शक है कि रामाश्रय सिंह ने जामताड़ा या पश्चिम बंगाल में शरण ली है। वहां की पुलिस से संपर्क साधा गया।