रांची

--Advertisement--

सरकार की योजनाओं का नहीं मिल रहा लाभ

हंटरगंज के बारा गांव में नेशनल फिशरमैन संघ के द्वारा जिला स्तरीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता संघ के...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:35 AM IST
हंटरगंज के बारा गांव में नेशनल फिशरमैन संघ के द्वारा जिला स्तरीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता संघ के जिला अध्यक्ष कमलेश कुमार साहनी ने की और संचालन शंभू चौधरी ने किया। सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश महासचिव सरयू केवट उपस्थित थे। विशिष्ट अतिथि हीरा निषाद प्रदेश कार्यकारिणी समिति के सदस्य भी मौजूद थे ।

कार्यक्रम का संचालन शंभू चौधरी ने किया ।सम्मेलन में जिले के सभी प्रखंडों से मल्लाह जाति के सैकड़ों लोग शामिल हुए। सम्मेलन में मुख्य रूप से मल्लाह जाति के उत्थान और विकास पर चर्चा की गई। इस दौरान मत्स्य पालन विभाग के द्वारा मछली पालन योजना के लाभ से मल्लाह जाति को वंचित करने की बात बताते हुए सरकार पर समाज को उपेक्षित करने का आरोप भी लगाया गया। मुख्य अतिथि सरयू केवट ने कहा कि केंद्र सरकार देश को मछली पालन में विश्व स्तर पर अव्वल बनाने के लिए विभिन्न योजनाएं चला रही है। लेकिन इन योजनाओं का लाभ धरातल पर नहीं मिल पा रहा है और मछली पालन से जुड़े लोगों तक नहीं पहुंच पा रहा है। ऐसे परिस्थितियों के विरुद्ध नेशनल फिशर मैन संघ के द्वारा 27 और 28 मई को बोकारो में राज्यव्यापी आंदोलन चलाने का निर्णय लिया गया। इसमें राज्य के सभी जिलों से मल्लाह समाज के लोगों को शामिल होना अनिवार्य बताया गया। इसके अलावा सम्मेलन के दौरान कमलेश कुमार साहनी को नेशनल फिशरमैन के जिला अध्यक्ष मनोनीत किया गया। साथ ही जिला कमेटी का गठन किया गया। इसमें इंद्रदेव चौधरी, विनोद मल्लाह, विनायक चौधरी, अखिलेश चौधरी को उपाध्यक्ष बनाया गया तथा दिलीप चौधरी को महासचिव, कारू चौधरी को सचिव ,नंदू चौधरी राम प्रवेश चौधरी दिनेश चौधरी मुकेश चौधरी को कमेटी के सदस्य बनाया गया गया। सम्मेलन में सैकड़ों की संख्या में मल्लाह जाति के लोग शामिल हुए।

X
Click to listen..