Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» कांके | बीएयू के तहत संचालित कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके)

कांके | बीएयू के तहत संचालित कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके)

कांके | बीएयू के तहत संचालित कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) के संविदाकर्मियों ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:50 PM IST

कांके | बीएयू के तहत संचालित कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) के संविदाकर्मियों ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई है। दरअसल वर्ष 2004 व इसके बाद 14 केवीके में अनुसेवक, कार्यालय अधीक्षक सह लेखापाल, चालक और आशुलिपिक के पदों पर इनकी संविदा के आधार पर बीएयू प्रशासन ने नियुक्ति की थी। लेकिन आज तक इनलोगों को महज 4400, 9300 और 5200 रुपये ही मानदेय के रूप में भुगतान हो रहा है। इससे इनलोगों को अपने परिवार के भरण पोषण में भी काफी कठिनाई हो रही है।

केवीके कर्मियों ने अपने सेवा के नियमितीकरण करने के लिए पीएम से हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। संविदा के आधार पर कुल 54 केवीके कर्मी कार्यरत हैं। इनलोगों ने वीसी डाॅ. पी कौशल को ज्ञापन सौंप कर विगत अक्टूबर माह से लंबित मानदेय के अविलंब भुगतान का आग्रह किया है। साथ ही प्रत्येक छह-छह माह पर सेवा विस्तार करने की प्रथा को समाप्त करने, पीएफ व ईएसआई सुविधा प्रारंभ करने तथा सेवा नियमित करने की मांग की है। चार फरवरी तक मांगों पर कार्रवाई नहीं होने पर पांच से अनिश्चितकालीन तालाबंदी करते हुए हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है।

इधर, ऊपरकोनकी पंचायत के चिरवा गांव में टुसू मेला का आयोजन किया गया। उद्घाटन मुख्य अतिथि कांग्रेस नेता सुरेश कुमार बैठा ने किया। मौके पर जिपस हकीम अंसारी, गुलजार अहमद, गौरीषंकर महतो, रामदेव सिंह आदि थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×