• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • प्रखंड बनने से सरयू क्षेत्र के विकास का खुला द्वार
--Advertisement--

प्रखंड बनने से सरयू क्षेत्र के विकास का खुला द्वार

कभी नक्सलियों की राजधानी के नाम से प्रसिद्ध सरयू गांव बुधवार को होली के रंग में रंग गया। अवसर था सरयू के प्रखंड...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:00 AM IST
कभी नक्सलियों की राजधानी के नाम से प्रसिद्ध सरयू गांव बुधवार को होली के रंग में रंग गया। अवसर था सरयू के प्रखंड बनने की खुशी में सरयू विकास मंच द्वारा अभिनंदन सह होली मिलन समारोह का। इसमें मनिका विधायक हरिकृष्ण सिंह, नगर पंचायत अध्यक्ष सुशील कुमार अग्रवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष लाल अमित नाथ शाहदेव, भाजयुमो प्रदेश मंत्री किसलय तिवारी, गारु प्रखंड प्रमुख बबिता देवी समेत कई भाजपाई शामिल हुए। सभी ने ग्रामीणों के साथ जमकर होली खेली। इस दौरान विधायक ने ढोल-मंजीरा के साथ फाग के गीत भी गाए।

विधायक ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि सरयू के प्रखंड बनने से इस क्षेत्र के विकास का द्वार खुल गया है। लोगों को विकास कार्य के लिए गारु प्रखंड नहीं जाना पड़ेगा। विधायक ने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए रघुवर दास को विकास पुरुष बताया। उन्होंने सरयू वासियों को होली की शुभकामनाएं भी दी और इस त्योहार को शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में बनाने की अपील की। इसके पूर्व सरयू के ग्रामीणों व सैकड़ों स्कूली बच्चों ने मांदर की थाप पर तेतरटोला से उपस्वास्थ्य केंद्र स्थित समारोह स्थल तक आदिवासी रीति-रिवाज से अतिथियों का गर्मजोशी से अभिनंदन किया। इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि राजन तिवारी, भाजयूमो जिलाध्यक्ष ध्रुव पांडेय, रामदेव सिंह, जिप सदस्य महेश सिंह, पूर्व जिप सदस्य रघुपाल सिंह, आनंद सिंह, बंशी यादव, छोटू राजा, मुखिया तारामणी देवी, आनंदी प्रसाद, सुरेश प्रसाद, अरुण साहू, कल्लू लोहरा, पंकज प्रसाद, ईश्वर प्रसाद समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। इस आयोजन को सफल बनाने में मंच की अध्यक्ष सह घांसीटोला मुखिया मंजू देवी, उपाध्यक्ष विवेकानंद गुप्ता, उलफन सिंह, महामंत्री राजू नायक, रंजीत प्रसाद, अमेरिका प्रसाद, राजेंद्र सिंह समेत कई ने सराहनीय भूमिका निभाई।