Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» मनरेगा में गड़बड़ी के खिलाफ प्रखंंड मुख्यालय में कांग्रेसियों ने दिया धरना

मनरेगा में गड़बड़ी के खिलाफ प्रखंंड मुख्यालय में कांग्रेसियों ने दिया धरना

प्रखंड मुख्यालय परिसर में शुक्रवार को कांग्रेसियों ने धरना दिया। यह धरना मनरेगा योजना में गड़बड़ी के विरोध दिया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 03, 2018, 02:00 AM IST

प्रखंड मुख्यालय परिसर में शुक्रवार को कांग्रेसियों ने धरना दिया। यह धरना मनरेगा योजना में गड़बड़ी के विरोध दिया गया। इसकी अध्यक्षता रकीबुल इमाम व नंदकिशोर साव ने संयुक्त रूप से किया। इनलोगों ने झारखंड के राज्यपाल को पत्र लिखकर मनरेगा में हो रहे लूट, भ्रष्टाचार पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मनरेगा से मजदूरों को लूटा जा रहा है, इस योजना से पूरे क्षेत्र में भ्रष्टाचार फैला हुआ है, बिचौलिया मालामाल हो रहे है, सरकारी पैसों की लूट हो रही हैं । इसमें सरकारी कर्मी संलिप्त हैं। धरना के बाद कांग्रेसियों ने बीडीओ को ज्ञापन सौंपा। इस धरने को सफल बनाने में प्रखंड अध्यक्ष रकीबुल इमाम के अलावा नंदकिशोर साव, संजय प्रसाद, मंदीप पासवान, मंधीर प्रसाद, संतोष कुमार साव, संजय यादव सहित दर्जनों कांग्रेसी शामिल थे।

मयूरहंड| प्रखंड कार्यालय समीप शुक्रवार को प्रखंड के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक दिवसीय धरना दिया। धरना कार्यक्रम प्रखंड उपाध्यक्ष भुनेश्वर हजाम की अध्यक्षता में किया गया। मंच का संचालन प्रखंड सचिव मो. जमील अख्तर ने किया। धरना कार्यक्रम में मनरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ाया बढाने, मजदूरों को 160 दिन तक काम दिलाने, मनरेगा कार्य स्थल पर मजदूरों की बच्चे को रखने, दवा, पानी की व्यवस्था करने, फर्जी जॉब कार्डधारियों को हटाने, मजदूरों को दो लाख का इंश्योरेंस कराने की मांग की गई। इस मौके पर सिमरिया विधान सभा के कांग्रेसी नेता सदानंद भुइयां, प्रखंड सचिव मो. जमील अख्तर, रामवृक्ष दांगी, बिरजू यादव, हरी भुइयां, टिंकू भुइयां, पिंटू राम, संतन भुइयां, सूरज कुमार, नरेश भुइयां, बैजू यादव, अशोक भुइयां, लखन भुइयां मौजूद थे।

टंडवा | भ्रष्टाचार के खिलाफ कांग्रेस कमेटी ने शुक्रवार को प्रखंड कार्यालय के समक्ष एक दिवसीय धरना दिया।जिसकी अध्यक्षता सुबेश राम व संचालन सुनील सिन्हा ने की। अपने संबोधन में वक्ताओं ने विस्थापन नीति, नौकरी, मुआवजा तथा मूलभूत सुविधाओं समेत कई समस्याओं पर प्रबंधन के विरुद्ध जमकर बरसे। वक्ताओं में सुबेश राम , सुनील सिन्हा ने भाजपा के शासन काल में लूट-खसोट व भ्रष्टाचार का बोलबाला के आरोप लगाए। धरना के पश्चात छह सूत्री मांगों को लेकर राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन प्रखंड विकास पदाधिकारी को सौंपा। जिसमें मुख्य रूप से मनरेगा योजना में भ्रष्टाचार की उच्चस्तरीय जांच ,मगध, आम्रपाली व एनटीपीसी में प्रशिक्षित युवाओं को प्राथमिकता के आधार पर रोजगार देने, कंपनियों द्वारा सीएसआर के तहत मूलभूत सुविधा मुहैया कराने, मिश्रौल को पूर्ण रुप से प्रखंड का दर्जा देने ,पारा शिक्षकों एवं रोजगार सेवकों को समायोजित करने ,की मांग की गई है। मौके पर तिलेश्वर साव, रवि कुमार गुप्ता, सरजू प्रसाद, अजय कुमार तिवारी ,पिंटू राम समेत अन्य उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×