Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से डोरंडा, हिनू , धुर्वा और हरमू बाईपास रोड बाहर, जमीन बनी बाधा

साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से डोरंडा, हिनू , धुर्वा और हरमू बाईपास रोड बाहर, जमीन बनी बाधा

राजधानी में साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से कई महत्वपूर्ण क्षेत्र को बाहर कर दिया गया है। कुल 11.5 वर्गकिलोमीटर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 03:10 AM IST

साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से डोरंडा, हिनू , धुर्वा और हरमू बाईपास रोड बाहर, जमीन बनी बाधा
राजधानी में साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से कई महत्वपूर्ण क्षेत्र को बाहर कर दिया गया है। कुल 11.5 वर्गकिलोमीटर क्षेत्र को इस प्रोजेक्ट में कवर किया गया है। लेकिन बड़ी आबादी वाले क्षेत्र डोरंडा, हिनू, धुर्वा और हरमू बाईपास रोड में साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट नहीं होगा। इन क्षेत्रों को प्रोजेक्ट से बाहर रखा गया है। वजह है- इस रूट में रोड के किनारे सरकारी जमीन का नहीं होना। पहले फेज में मात्र कांके रोड, सर्कुलर रोड से पुरूलिया रोड के लोगों को साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट का फायदा मिलेगा। इस जोन में कुल 25 साइकिल स्टेशन बनेंगे। मार्च के अंतिम सप्ताह में इस जोन में 100 साइकिल से प्रोजेक्ट की शुरुआत करने की तैयारी चल रही है।

फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन कल से, आईकार्ड का विरोध शुरू

रजिस्ट्रेशन कराने वाले दुकानदारों को ही व्यवस्थित करेगा नगर निगम

सिटी रिपोर्टर|रांची

हाईकोर्ट की फटकार के बाद शहर के फुटपाथ दुकानदारों को व्यवस्थित करने के लिए टाउन वेंडिंग कमेटी बनाने की कवायद शुरू हो गई है। इसके लिए फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन होगा, क्योंकि रजिस्टर्ड फुटपाथ दुकानदार ही टाउन वेंडिंग कमेटी के 12 सदस्यों को प्रत्यक्ष निर्वाचन से चुनेंगे। रांची नगर निगम द्वारा फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन 5 मार्च से होगा। कांटाटोली स्थित बिरसा मुंडा बस टर्मिनल में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक फुटपाथ दुकानदार आईकार्ड और 100 रुपए देकर रजिस्ट्रेशन फॉर्म ले सकते हैं। जोन वाइज दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन होगा। रजिस्ट्रेशन के बाद फुटपाथ दुकानदारों को निगम से आईकार्ड और वेडिंग सर्टिफिकेट मिलेगा। इधर, रांची फुटपाथ दुकानदार हॉकर संघ ने फुटपाथ दुकानदारों को आईकार्ड जारी करने का विरोध कर दिया है। संघ की महासचिव अनिता दास ने कहा कि टाउन वेंडिंग कमेटी बने बिना आईकार्ड जारी नहीं हो सकता। ऐसे में रजिस्ट्रेशन का दुकानदार बहिष्कार करेंगे।

स्टेशन बनाने में जमीन बनी बाधा

डोरंडा, हिनू में सड़क संकरी और हेवी ट्रैफिक है। रोड के किनारे सरकारी जमीन भी नाममात्र की है। इस वजह से इस क्षेत्र को प्रोजेक्ट में शामिल नहीं किया गया है। हरमू बाईपास रोड में फ्लाईओवर और स्मार्ट रोड का निर्माण होना है। इसके लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है। इसलिए इस क्षेत्र को प्रोजेक्ट में शामिल नहीं किया गया है। धुर्वा में एचईसी की जमीन होने की वजह से एनओसी की समस्या आड़े आ रही थी। इसे देखते हुए धुर्वा को भी प्रोजेक्ट से बाहर कर दिया गया है। में कई कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान हैं। इस क्षेत्र को बाहर किए जाने से स्टूडेंट्स सहित इस क्षेत्र के लोगों को स्मार्ट साइकिलिंग का फायदा नहीं मिलेगा।

कांके, सर्कुलर व पुरुलिया रोड में ही साइकिल चलाने की तैयारी

5800 दुकानदारों का होगा रजिस्ट्रेशन

निगम नेे शहर को चार जोन में बांटकर फुटपाथ दुकानदारों का सर्वे कराया है। सम्मान फाउंडेशन की ओर से अभी तक कुल 5800 फुटपाथ दुकानदार चिन्हित किए गए हैं। सर्वे में जिन दुकानदारों का नाम है सिर्फ उन्हीं का रजिस्ट्रेशन होगा। रजिस्टर्ड दुकानदारों को ही निगम द्वारा वेंडिंग जोन में व्यवस्थित किया जाएगा। बिना रजिस्ट्रेशन के कोई भी दुकानदार नो वेंडिंग जोन में दुकान लगाएंगे तो उनका सामान जब्त होगा।

ऐसे जोन वाइज आएगा एरिया

1. जोन एक में आने वाले फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन 5 मार्च से 8 मार्च तक होगा। इस जोन में रातू रोड, मधुकम, हरमू रोड, कांके रोड, अरगोड़ा से सेटेलाइट चौक और अरगोड़ा से कडरू क्षेत्र के फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन होगा।

2. जोन दो में आने वाले फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन 9 से 12 मार्च तक होगा। इस जोन में मोरहाबादी, करमटोली से बरियातू रोड होते हुए बूटी मोड़, कोकर, लालपुर से डंगराटोली का क्षेत्र आएगा।

3. जोन तीन में आने वाले फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन 13 से 16 मार्च तक होगा। इस जोन में अपर बाजार, एमजी रोड, हिंदपीढ़ी, कचहरी रोड, चुटिया का क्षेत्र आएगा।

रजिस्ट्रेशन नहीं कराया तो नहीं मिलेगा वोटिंग राइट्स : टाउन वेंडिंग कमेटी में 30 सदस्य होंगे। 18 सदस्य सरकार द्वारा नामित हैं, लेकिन 12 सदस्य सीधे फुटपाथ दुकानदारों द्वारा निर्वाचित होंगे। इसके लिए फुटपाथ दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन होना जरूरी है। जिस दुकानदार का रजिस्ट्रेशन और आईकार्ड नहीं होगा उसे मताधिकार का अधिकार नहीं मिलेगा।

कांके, सर्कुलर और पुरूलिया रोड में ही साइकिल चलाने की तैयारी

फेज वन में भी स्टेशन की डिजाइन बदलेगी : प्रोजेक्ट में कुल 120 स्टेशन बनने हैं। फेज वन में कुल 25 स्टेशन बनेंगे। लेकिन रोड के किनारे बनी नाली होने से स्टेशन बनाने में दिक्कत हो रही है। क्योंकि साइकिल स्टेशन जिस पोल पर खड़ा होगा, उसका बेस जमीन के 15 फुट नीचे बनेगा।

फेज वन में शैक्षणिक संस्थान वाले क्षेत्र पर फोकस किया गया है। जून तक 11.5 वर्ग किमी का क्षेत्र साइकिल से कवर होगा। डोरंडा, धुर्वा और हरमू में फिलहाल यह प्रोजेक्ट शुरू नहीं होगा। राजेश शर्मा, निदेशक, सूडा

झासा का आंदोलन रद्द मारपीट का आरोपी धराया

सरकार ने सभी मांगें पूरी कीं : डॉ. विमलेश

सिटी रिपोर्टर| रांची

जामताड़ा सिविल सर्जन के साथ मारपीट मामले को लेकर आईएमए और झासा द्वारा किया जा रहा आंदोलन अब रद्द कर दिया गया है। झासा सचिव डॉ. बिमलेश सिंह ने कहा कि सरकार ने सभी मांगें पूरी कर दी हैं। इसके बाद अब आंदोलन का औचित्य नहीं है।

जामताड़ा के सिविल सर्जन के साथ मारपीट करने में शामिल एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही सिविल सर्जन को सुरक्षा उपलब्ध करा दी गई है। सदर अस्पताल, जामताड़ा में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। डॉ. सिंह ने कहा कि इस मामले में निदेशक प्रमुख डॉ. सुमंत मिश्रा ने सकारात्मक पहल की है। उन्होंने इस मामले में लगातार मॉनिटरिंग की, जिसके कारण यह हमारी समस्या का समाधान निकल पाया है।

फेज वन में भी स्टैंड बनाने के लिए जमीन नहीं

4 माह में 1200 साइकिल चलाने की तैयारी : नगर विकास विभाग ने चयनित कंपनी को 4 माह के अंदर सभी 1200 साइकिल शहर में उतारने का निर्देश दिया है। पहले फेज के लिए 100 साइकिल जर्मनी से भारत आ गई हैं। एसेंबल होने के बाद उसे रांची लाया जाएगा। जून तक सभी साइकिलें आ जाएंगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: साइकिल शेयरिंग प्रोजेक्ट से डोरंडा, हिनू , धुर्वा और हरमू बाईपास रोड बाहर, जमीन बनी बाधा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×