• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • घाघरा में बनने वाले अपोलो के रास्ते के लिए 27 डिसमिल जमीन अधिग्रहण तय
--Advertisement--

घाघरा में बनने वाले अपोलो के रास्ते के लिए 27 डिसमिल जमीन अधिग्रहण तय

राजधानी के बड़ा घाघरा में पिछले पांच साल से प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी अपोलो हॉस्पिटल तक जाने के लिए अब चार...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:15 AM IST
राजधानी के बड़ा घाघरा में पिछले पांच साल से प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी अपोलो हॉस्पिटल तक जाने के लिए अब चार रैयतों की जमीन ली जाएगी। रास्ता के लिए कुल 27 डिसमिल जमीन का अधिग्रहण होना तय है। जिला भू अर्जन पदाधिकारी सीमा सिंह ने भूमि अधिग्रहण अधिनियम की धारा 19 के तहत अधिसूचना जारी की है। यानी अब रैयतों को मुआवजा देने के बाद प्रशासन उक्त जमीन को कब्जा में लेकर नगर निगम को सौंपेगा। इसके बाद निगम द्वारा हॉस्पिटल के लिए प्रस्तावित जमीन तक रोड का निर्माण कराया जाएगा।

50 फुट चौड़ी जमीन का होगा अधिग्रहण

घाघरा में प्रस्तावित हॉस्पिटल की जमीन तक जाने वाले रास्ते की चौड़ाई मात्र 12 फुट है। हॉस्पिटल प्रबंधन 80 फुट चौड़ी सड़क की मांग कर रहा है। इसे देखते हुए जमीन का अधिग्रहण हो रहा है। लगभग 50 फुट चौड़ी जमीन का अधिग्रहण होने से सड़क की चौड़ाई पर्याप्त हो जाएगी। घाघरा रोड से हॉस्पिटल तक वाहनों के आने जाने में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। इसके लिए रैयत वेद प्रकाश वर्मा, बिरसा तिर्की, भौवा तिर्की और महानंद उरांव की जमीन का अधिग्रहण होगा।

5 साल लग गए जमीन अधिग्रहण में : जिला प्रशासन को वर्ष 2013 में ही रास्ता के लिए जमीन अधिग्रहण करने का प्रस्ताव और पैसा भेज दिया गया था। पिछले पांच साल में प्रशासन की ओर से तीन बार जमीन अधिग्रहण की अधिसूचना जारी की गई।

बाहर जाने से मिलता छुटकारा : चेन्नई अपोलो प्रबंधन द्वारा 200 बेड का सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनाया जाना है। हॉस्पिटल में हार्ट इंस्टीच्युट, आर्थोपेडिक्स, न्यूरोसाइंस, कैंसर इंस्टीच्युट और इंस्टीच्युट ऑफ ट्रांसप्लांट की सुविधा रहेगी।