• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • गुरु ही व्यक्ति के जीवन की राह के कांटों को उखाड़ना सिखाता है
--Advertisement--

गुरु ही व्यक्ति के जीवन की राह के कांटों को उखाड़ना सिखाता है

डीएवी के तीन दिवसीय वैदिक चेतना सह चरित्र निर्माण शिविर का भव्य समापन हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बीडी...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
गुरु ही व्यक्ति के जीवन की राह के कांटों को उखाड़ना सिखाता है
डीएवी के तीन दिवसीय वैदिक चेतना सह चरित्र निर्माण शिविर का भव्य समापन हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बीडी शास्त्री, विशिष्ट अतिथि विभय कुमार सिन्हा एवं प्रिंसिपल डी के महतो ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित किया। शास्त्री ने कहा कि गुरु ही जीवन के कांटो को उखाड़ना सिखाता है। उन्होंने छात्रों को वचन की पूर्णता, लक्ष्य निर्धारण, समय पालन, उच्च चरित्र एवं स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने को कहा। कहा कि जीवन में व्यवहारिक ज्ञान का महत्व है। प्रिंसिपल डीके महतो ने अतिथियों का शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया। उन्होंने कहा कि इस शिविर में सिखाई हुई बातों का विद्यार्थी जीवन में अनुकरण करेंगे और अपने चरित्र को ऊंचा बनाएंगे।

छात्रों को योग अभ्यास कराया

समापन समारोह के दौरान शिविर में आयोजित प्रतियोगिताओं में सफल हुए छात्रों को पुरस्कार भी दिए गए। इस दौरान बेस्ट स्कूल का अवार्ड डीएवी सिल्ली को मिला और सर्वोत्तम अनुरक्षक का अवार्ड सुशील आर्य को मिला। जया कुमारी सर्वोत्तम शिविरार्थी चयनित हुई. धन्यवाद ज्ञापन शिक्षक सुजीत राणा ने किया। कार्यक्रम में पतंजलि योग समिति के सदस्यों ने योग की कक्षा भी ली। उन्होंने प्राणायाम, ध्यान योग, अनुलोम विलोम, भ्रामरी योग का अभ्यास कराया।

X
गुरु ही व्यक्ति के जीवन की राह के कांटों को उखाड़ना सिखाता है
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..