• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • बूथों पर 15 अप्रैल तक पानी व बिजली की व्यवस्था करें अफसर
--Advertisement--

बूथों पर 15 अप्रैल तक पानी व बिजली की व्यवस्था करें अफसर

डीसी राय महिमापत रे ने अफसरों को निर्देश दिया है कि जहां मतदान केंद्र बनाए गए हैं, उनका भौतिक सत्यापन करने का काम...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
डीसी राय महिमापत रे ने अफसरों को निर्देश दिया है कि जहां मतदान केंद्र बनाए गए हैं, उनका भौतिक सत्यापन करने का काम जल्द पूरा करें। भवनों की स्थिति की जायजा लें और दुरुस्त करने की दिशा में आवश्यक कार्यवाही करें। ध्यान रहे कि बूथों पर बिजली-पानी आदि की पूरी व्यवस्था वोटिंग के एक दिन पहले 15 अप्रैल तक हो जानी चाहिए।

डीसी शनिवार को कलेक्ट्रेट में नगर निगम चुनाव को लेकर बैठक कर रहे थे। इसमें निगम क्षेत्र के सभी अंचलाधिकारी समेत पुलिस अधिकारी मौजूद थे। बैठक के दौरान उन्होंने इस बात पर विशेष जोर दिया कि 16 अप्रैल को मतदान केंद्रों तक आने-जाने में दिव्यांगों और बुजुर्गों को कोई परेशानी न हो, इसकी व्यवस्था हर हाल में हो जाना चाहिए।

बाद में चुनाव संबंधी तैयारियों की समीक्षा में उन्होंने संतोष जताया। साथ ही शांतिपूर्ण चुनाव कराने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ने के प्रति आगाह किया। इस अवसर पर सदर एसडीओ, अपर जिला दंडाधिकारी विधि-व्यवस्था, बुंडू एसडीओ, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, उप निर्वाचन पदाधिकारी, नगर पुलिस अधीक्षक समेत पुलिस-प्रशासन के अन्य अफसर मौजूद थे।

चुनाव को लेकर रांची नगर निगम क्षेत्र के सीओ और पुलिस अधिकारियों के साथ समाहरणालय में बैठक करते उपायुक्त।

मतदान के दिन दिव्यांगों-बुजुर्गों की सहूलियत का इंतजाम करें

अतिसंवेदनशील बूथ पर 3 श्रेणी में होगी पुलिसबलों की तैनाती

एक भवन में बूथों, मतदाताओं, प्रत्याशियों की संख्या, पूर्व में वोटिंग के दौरान हुई घटनाओं को देखते हुए मतदान केंद्रों को साधारण, संवेदनशील और अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा जाएगा। इसके लिए एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने थानेदारों से मतदान केंद्रों की मैपिंग से संबंधित जानकारी ली। साथ ही निर्देश दिया कि जो अतिसंवेदनशील मतदान केंद्र हैं और कोई अप्रिय घटना की आशंका है तो उसका स्पष्ट प्रतिवेदन दें। ताकि पुलिस बल की तैनाती पहले से ही की जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि जो सड़कें रांची नगर निगम क्षेत्र में प्रवेश करती हैं, वहां सुरक्षा के तहत पुलिस चेकपोस्ट का होना जरूरी है।

शांति भंग किया तो धारा-107 का केस होगा

एसएसपी ने कहा कि चुनाव में शांति-व्यवस्था भंग करने वाले और विवाद करने वाले लोगों को चिह्नित करें। उनके खिलाफ धारा-107 के तहत एफआईआर दर्ज की जाएगी। वहीं, विवाद करने वालों के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत भी जांच-पड़ताल की जाए। पूर्व में चुनाव के दौरान जिस इलाके या मतदान केंद्र में मारपीट व अन्य घटनाएं हुई हैं, वहां निगरानी की विशेष व्यवस्था की जाएगी। चुनाव के दौरान किसी भी प्रकार की गड़बड़ी करने वालों से पुलिस-प्रशासन पूरी सख्ती के साथ निपटेगा।

आचार संहिता उल्लंघन के 3 मामले दर्ज

चुटिया थाने में दंडाधिकारी अभिषेक आनंद ने वार्ड-46 की प्रत्याशी पूजा वर्णवाल, अरगोड़ा थाने में दंडाधिकारी दिलीप नायक ने वार्ड-35 के शिबू तिग्गा, वार्ड-26 के सर्वजीत चौधरी और आप पार्टी पर केस दर्ज कराया है। वहीं, डोरंडा थाने में दंडाधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने वार्ड-45 के नसीम गद्दी पर मामला दर्ज कराया है।