• Hindi News
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • News
  • ढलती उम्र में जीवन को उद्देश्य देने चुनाव में उतरीं महिलाएं लक्ष्य सिर्फ समाजसेवा
--Advertisement--

ढलती उम्र में जीवन को उद्देश्य देने चुनाव में उतरीं महिलाएं- लक्ष्य सिर्फ समाजसेवा

News - उम्र की जिस दहलीज पर लोग थक जाते हैं, काया जवाब देने लगती है, पोते-पोतियों के साथ पल बिताना काफी सुकून देता है, रांची...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
ढलती उम्र में जीवन को उद्देश्य देने चुनाव में उतरीं महिलाएं- लक्ष्य सिर्फ समाजसेवा
उम्र की जिस दहलीज पर लोग थक जाते हैं, काया जवाब देने लगती है, पोते-पोतियों के साथ पल बिताना काफी सुकून देता है, रांची नगर निगम क्षेत्र की चार महिला प्रत्याशी पूरे जज्बे के साथ चुनाव मैदान में हैं। यह प्रमाण है महिला सशक्तीकरण का। माद्दा है समाजसेवा। ढलती उम्र में भी एक संपूर्ण और उद्देश्यपूर्ण जिंदगी जीने का लक्ष्य। हम बात कर रहे हैं चार बुजुर्ग महिला प्रत्याशियों की। ये हैं- 72 साल की देवंती देवी, 64 वर्षीय गोदावरी देवी, 60 साल की आशा देवी और 55 वर्षीय रीना मुखर्जी। गोदावरी और रीना एक ही वार्ड से प्रत्याशी हैं। सुबह उजाला होते ही ये चारों निकल पड़ती हैं जनसंपर्क में। ऐसा नहीं है कि ये सिर्फ चुनाव लड़ने और पार्षद बनने के उद्देश्य से प्रत्याशी बनी हैं, बल्कि पूरी रणनीति, विस्तृत सोच-विजन और वार्ड की परेशानियां दूर करने का पूरा खाका है इनके पास।

ये चारों कहती हैं- वार्ड के बच्चों की दुख-तकलीफ अच्छे से समझती हैं। बच्चों में जो भटकाव आ रहा है, परिवार टूट रहे हैं, समाज से संस्कार और संस्कृति विलुप्त हो रही हैं, ये सबकाे दुरुस्त करना है। उम्र के इस पड़ाव में नाम-शोहरत हमारे लिए मायने नहीं रखतीं। हमारी तो बस यही इच्छा है कि हमारा वार्ड फले-फूले। हर घर में खुशियां हों। बच्चों को सभी सुविधाएं मिले, जो उनके करियर के लिए जरूरी है।

X
ढलती उम्र में जीवन को उद्देश्य देने चुनाव में उतरीं महिलाएं- लक्ष्य सिर्फ समाजसेवा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..