रांची

  • Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • आरआरडीए के सॉफ्टवेयर से गायब हुए गांव, मकानों के नक्शा नहींं हो रहे जमा
--Advertisement--

आरआरडीए के सॉफ्टवेयर से गायब हुए गांव, मकानों के नक्शा नहींं हो रहे जमा

रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार (आरआरडीए) क्षेत्र में घर बनाने वालों की परेशानी कम होने का नाम ही नहीं ले रही है।...

Danik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार (आरआरडीए) क्षेत्र में घर बनाने वालों की परेशानी कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। लंबे समय से ऑनलाइन के चक्कर में प्राधिकार से घर का नक्शा पास नहीं हो रहा था। अब प्राधिकार में ऑनलाइन नक्शा जमा हो रहा है, लेकिन प्राधिकार क्षेत्र के सैकड़ों गांव सॉफ्टवेयर से गायब है। इस वजह से लोगों का नक्शा जमा नहीं हो रहा है। ऑर्किटेक्ट से नक्शा बनवाने के बाद भी लोग उसे लेकर घूम रहे हैं। क्योंकि सॉफ्टवेयर में गांव का नाम क्यो नहीं है और प्राधिकार में इसका जवाब देने वाला भी कोई नहीं है। इस वजह से घर का नक्शा पास कराने वाले परेशान है। गांव का नाम गायब होने से आर्किटेक्ट की भी परेशानी बढ़ गई है। क्योंकि जब तक गांव का नाम नहीं होगा तब तक आवेदन जमा नहीं होगा।

DB STAR EXPOSE

60 से अधिक गांव का नाम गायब

आरआरडीए क्षेत्र में नामकुम, ओरमांझी, कांके, रातू, नगड़ी प्रखंड, कर्रा और खूंटी का भी कुछ क्षेत्र आता है। शहरी क्षेत्र के बाहर कुल 302 गांव आरआरडीए क्षेत्र में शामिल है, जहां निजी घर या हाई राइज बिल्डिंग बनाने के लिए आरआरडीए से नक्शा पास कराना जरुरी है। पर सॉफ्टवेयर में 60 से अधिक गांव गायब है।

नक्शा जमा करने पहुंचे तो गायब था रामपुर गांव

1. रमेश कुमार मुंबई में काम करते हैं। नामकुम के रामपुर में घर बनाने के लिए आर्किटेक्ट से नक्शा बनवाया। जब आर्किटेक्ट नक्शा जमा करने लगा तो पता चला कि सॉफ्टवेयर में रामपुर गांव नहीं है। आरआरडीए में कह दिया कि सॉफ्टवेयर सुधार नगर विकास विभाग से ही होगा।

ऑनलाइन नक्शा पास करने के लिए सॉफ्टवेयर स्टेट अर्बन डेवलपमेंट एजेंसी (सूडा) ने बनाया है। उसी को आरआरडीए में लागू किया गया है। गांव का नाम मिसिंग सहित कई गड़बड़ी सामने आ रही है। गड़बड़ी दूर करने के लिए सूडा निदेशक को पत्र लिखा गया है। जल्द ही सॉफ्टवेयर में सुधार होगा। -अरविंद कुमार, उपाध्यक्ष, आरआरडीए

घर बनाने वालों की बढ़ी परेशानी, अब आर्किटेक्ट भी नक्शा जमा करने से कर रहे हैं इंकार

2. नामकुम के गड़के गांव में रश्मि देवी ने दो मंजिलें घर बनाने का नक्शा बनवाई। जब आर्किटेक्ट नक्शा जमा करने लगा तो ऑनलाइन में गड़के गांव मिला नहीं। आर्किटेक्ट ने साफ कर दिया कि जब तक गांव का नाम सॉफ्टवेयर में नहीं जुड़ेगा तब तक नक्शा जमा नहीं होगा।

Click to listen..