--Advertisement--

पवित्र मिस्सा के साथ ईस्टर मनाया

चालीसा काल के पवित्र सप्ताह में पुण्य बृहस्पतिवार और गुड फ्राइडे की धर्मविधि के बाद कैथोलिक विश्वासियों ने...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
चालीसा काल के पवित्र सप्ताह में पुण्य बृहस्पतिवार और गुड फ्राइडे की धर्मविधि के बाद कैथोलिक विश्वासियों ने लोयोला मैदान में 10:30 बजे पास्का जागरण की धर्मविधि और पवित्र मिस्सा के साथ ईस्टर मनाया। इसमें मुख्य अनुष्ठक तथा उपदेशक कार्डिनल तेलेस्फोर पी टोप्पो थेे। पास्का जागरण की धर्मविधि में कार्डिनल के साथ बतौर सह अनुष्ठाता जेसुइट प्रोविंशियल सुपीरियर फादर जोसेफ मरियानुस कुजूर, पल्ली पुरोहित फादर थियोडोर टोप्पो, कार्डिनल टोप्पो के पीए फादर रायमन तोबियस टोप्पो समेत अन्य पुरोहितों ने सहयोग किया। धर्मविधि की शुरुआत नई आग की आशीष से हुई। इससे पूर्व लोयोला मैदान में सुसज्जित मंच समेत पूरे मैदान की बतियां बुझा कर अंधेरा कर दिया गया। इसके बाद कार्डिनल टोप्पो ने नयी आग की आशीष की। पास्का कैंडल के प्रज्ज्वलित होने के साथ ही अंधकार से प्रभावित लोयोला मैदान में ज्योति प्रकट हुई। लोगों ने एक दूसरे को पर्व की बधाई दी।

पुनरुत्थान की घोषणा हर मसीहियों का दायित्व

मौके पर कार्डिनल तेलेस्फोर पी टोप्पो ने कहा कि हमारे प्रभु येसु मसीह मृतकों में से जी उठे हंै। उनका पुनरुत्थान हुआ है। खाली कब्र और प्रभु येसु के शिष्यों की उद््घोषणा यह साक्षी है कि प्रभु येसु जी उठे हैं। विश्वासी समुदाय की संख्या में इजाफा और कलीसिया का गठन प्रभु येसु के इसी पुनरुत्थान के गहरे अनुभव का फल है। उनके जीवन दु:खभोग, क्रूस मरण और पुनरुत्थान की घोषणा करना हर मसीही विश्वासी का दायित्व है। तमाम विश्वासियों को अपने हृदयों में आशा के द्वार खोलने और अनंत पास्का की ओर अग्रसर होने को प्रेरित किया। मौके पर स्थानीय धर्मसंघी समुदायों और पुरोहितों की उदार सेवा के लिए आभार व्यक्त किया गया। पुनर्जीवित प्रभु येसु मसीह के आशीर्वाद की शुभकामनाएं दी गईं।