रांची

--Advertisement--

होली एंजिल चर्च में उपासना व आराधना

होली एंजिल चर्च कोकर में कैथोलिक मसीहियों ने शनिवार की रात्रि 10.30 बजे पास्का जागरण धर्मविधि के साथ पवित्र मिस्सा...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
होली एंजिल चर्च कोकर में कैथोलिक मसीहियों ने शनिवार की रात्रि 10.30 बजे पास्का जागरण धर्मविधि के साथ पवित्र मिस्सा कर येसु ख्रीस्त के पुनरुत्थान की घोषणा की। इस धर्मविधि के मुख्य अनुष्ठाता पेरिश प्रिस्ट फादर शिलानंद केरकेट्‌टा थे। उपदेशक डॉन बॉसको स्कूल के प्रिंसिपल फादर ज्योतिष किंडो रहे। इस धर्मविधि व पवित्र मिस्सा में फादर बीजू, फादर नॉबल जॉर्ज, फादर पूनम, फादर लीवंस आदि ने सहयोग किया।

पवित्र यूखरिस्त का कार्यक्रम

सिटी रिपोर्टर | रांची

संत फ्रांसिस चर्च, हरमू में रात्रि दस बजे ईस्टर विजिल की धर्मविधि के साथ पवित्र यूखरिस्त का कार्यक्रम हुआ। फ्रैंसिसकन टीओआर रांची के प्रोविंशियल सुपीरियर फादर हिलारियुस बारला इस धर्मविधि और पवित्र यूखरिस्त के मुख्य अनुष्ठक तथा उपदेशक थे। इस धर्मविधि और पवित्र यूखरिस्तीय समारोह में सह अनुष्ठक में पेरिश प्रिस्ट फादर ग्रेगोरी केरकेट्‌टा, फादर कारलुस किड़ो तथा फादर पाउलिनुस किड़ो ने सहयोग किया। ईस्टर विजिल का यह कार्यक्रम मुख्य अनुष्ठक प्रोविंशियल सुपीरियर फादर हिलारियुस बारला द्वारा नई आग की आशीष और उस नई आग से पास्का 2018 कैंडल को प्रज्ज्वलित करने के साथ हुई। इस विधि के साथ विश्वासियों ने ख्रीस्त को ज्योति का प्रतीक बताया। पास्का मोमबती से धर्मविधि में शामिल सहयोगी पुरोहितों, धर्मबंधुओं और धर्मबहनों ने अपने साथ लाए कैंडल जलाए। इस तरह पूरा आयोजन स्थल प्रकाश में खिल उठा। प्रोविंशियल फादर हिलारियुस बारला ने कहा येसु सचमुच जी उठे। उनका पुनरुत्थान हुआ है।

X
Click to listen..