• Hindi News
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • News
  • कोल इंडिया में 19 हजार अफसरों के वेतन पुनरीक्षण पर बनी सहमति

कोल इंडिया में 19 हजार अफसरों के वेतन पुनरीक्षण पर बनी सहमति / कोल इंडिया में 19 हजार अफसरों के वेतन पुनरीक्षण पर बनी सहमति

News - कोल इंडिया और उसकी सहायक कंपनियों में कार्यरत अधिकारियों के वेतन पुनरीक्षण पर सहमति लगभग बन चुकी है। कोयला...

Bhaskar News Network

Apr 03, 2018, 03:40 AM IST
कोल इंडिया में 19 हजार अफसरों के वेतन पुनरीक्षण पर बनी सहमति
कोल इंडिया और उसकी सहायक कंपनियों में कार्यरत अधिकारियों के वेतन पुनरीक्षण पर सहमति लगभग बन चुकी है। कोयला मंत्रालय का कहना है इस मामले में कोल इंडिया बोर्ड से मंजूरी लेनी चाहिए। कोयला मंत्रालय के उप निदेशक डीके शर्मा ने कोल इंडिया के चेयरमैन को इस मामले में पत्र भी लिखा है। कोयला अधिकारियों का वेतन पुनरीक्षण जनवरी 2017 से लंबित है। हर 10 साल पर अफसरों का वेतन पुनरीक्षण होता है। वेतन पुनरीक्षण से वर्तमान कार्यरत करीब 19 हजार कोल अधिकारी लाभान्वित होंगे।

कोयला सचिव ने की थी बैठक: उधर, चेयरमैन को भेजे पत्र में उप निदेशक ने कहा है, कोयला सचिव ने सीएमओ एआई के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में 27 मार्च को अधिकारियों से बात की थी। इसमें पता चला कि अधिकारियों के वेतन पुनरीक्षण पर कोल इंडिया बोर्ड से मंजूरी नहीं ली गई है। इसके मद्देनजर चेयरमैन को बोर्ड से प्रस्ताव की मंजूरी लेने को कहा गया।

इधर, कोयला मंत्री संग वार्ता विफल 16 को कोल इंडिया में हड़ताल तय

सिटी रिपोर्टर | रांची/रजरप्पा

कॉमर्शियल कोल माइनिंग के प्रस्ताव पर आपसी सहमति बनाने और 4 केंद्रीय श्रम संगठनों के नेताओं द्वारा 16 अप्रैल को हड़ताल टालने के लिए नई दिल्ली के शास्त्री भवन में हुई बैठक बेनतीजा रही। सोमवार दोपहर 12 बजे कोयला सचिव सुशील कुमार के साथ श्रम संगठन के नेताओं के बीच बैठक में बात नहीं बनी तो शाम को केंद्रीय कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने मोर्चा संभाला, पर श्रम संगठन के नेता मांगों पर अड़े रहे। मंत्री ने कहा, प्रस्ताव का असर कोल इंडिया पर नहीं पड़ेगा। मजदूरों का हित पूरी तरह सुरक्षित रहेगा। श्रम संगठनों का कहना था कि इस प्रस्ताव से कोयला उद्योग निजी हाथों मे चला जाएगा।

वार्ता विफल होने के बाद देश के सवा 3 लाख कोयलाकर्मियों की नजर अब 4 अप्रैल को धनबाद में होने वाले श्रम संगठनों के ज्वाइंट कन्वेंशन पर लगी है। एटक नेता लखनलाल महतो ने बताया, कन्वेंशन में 16 के प्रस्तावित हड़ताल को सफल बनाने की रणनीति पर चर्चा होगी।





बैठक में कोयला मंत्री और कोयला सचिव के अलावा कोल इंडिया के चेयरमैन गोपाल सिंह मौजूद थे। श्रम संगठन की ओर से सीटू के डीडी रामनंदन, बीएमएस के डॉ बसंत कुमार राय, एचएमएस के नाथूलाल पांडेय और एटक के आरसी सिंह शामिल हुए।

X
कोल इंडिया में 19 हजार अफसरों के वेतन पुनरीक्षण पर बनी सहमति
COMMENT