• Hindi News
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • News
  • वार्डों में जमावड़े पर रोक, भर्ती मरीज के साथ अब दो परिजन ही रह सकेंगे
--Advertisement--

वार्डों में जमावड़े पर रोक, भर्ती मरीज के साथ अब दो परिजन ही रह सकेंगे

News - रिम्स में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा व्यवस्था बुधवार को दोपहर एक बजे तक पूरी तरह चरमराई रही। राज्य के...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:40 AM IST
वार्डों में जमावड़े पर रोक, भर्ती मरीज के साथ अब दो परिजन ही रह सकेंगे
रिम्स में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा व्यवस्था बुधवार को दोपहर एक बजे तक पूरी तरह चरमराई रही। राज्य के मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी करीब 12 बजे रिम्स पहुंचे। तब रिम्स प्रबंधन और पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के साथ सात बिंदुओं पर चर्चा हुई। बैठक के दौरान ही मुख्य आरोपी पिंटू ने वीडियो कॉलिंग के जरिए जूनियर डॉक्टरों से माफी मांगी। तब लिखित आश्वासन के बाद जेडीए ने हड़ताल समाप्त करने की घोषणा की। वार्ता में तय हुआ कि रिम्स के वार्डों में जमावड़े पर रोक लगेगी, मरीज के साथ दो परिजन ही रहेंगे। इसके बाद 1.30 बजे से डॉक्टर काम पर वापस लौट आए। दुखद यह रहा कि हड़ताल के दौरान 16 मरीजों की मौत हो गई।

वार्ता के बाद मुख्य सचिव से कहा -अभी 1.10 बज रहे हैं, डेढ़ बजे काम पर लौटेंगे।

जेडीए से वार्ता में इन मांगों पर बनी सहमति





बिना उपचार के लौटे 1000 से अधिक मरीज

रिम्स में बुधवार को एक हजार से अधिक मरीज ओपीडी में दिखाने के लिए पहुंचे थे। लेकिन हड़ताल कर रहे जूनियर डॉक्टरों ने सुबह 10.00 बजे सभी विभाग के ओपीडी को बंद करा दिया। वहीं, उन्होंने रजिस्ट्रेशन काउंटर भी बंद करा दिया। हालांकि काउंटर बंद कराने से पहले 421 (पेड) एवं 15 (मुफ्त) मरीज की पर्ची कटी थी। लेकिन ओपीडी बंद करा दिए जाने इलाज नहीं हो सका।

सभी मुद्दों पर सहमति बनी


X
वार्डों में जमावड़े पर रोक, भर्ती मरीज के साथ अब दो परिजन ही रह सकेंगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..