• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • इजराइल में भारतीय शां‍ति सेना में तैनात बेड़ो के जवान जाॅनसन बेक की ड्यूटी के दौरान मौत
--Advertisement--

इजराइल में भारतीय शां‍ति सेना में तैनात बेड़ो के जवान जाॅनसन बेक की ड्यूटी के दौरान मौत

इडरी गांव निवासी आर्मी जवान जॉनसन बेक की 18 फरवरी को ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:50 AM IST
इडरी गांव निवासी आर्मी जवान जॉनसन बेक की 18 फरवरी को ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है। जॉनसन इजराइल में सीरिया बार्डर पर भारतीय शांतिसेना में पदस्थापित थे। साथी आर्मी जवान किशन कुमार के नेतृत्व में बुधवार को जॉनसन का पार्थिव शरीर पैतृक गांव इडरी लाया गया। गांव के कब्रिस्तान में सैनिक सम्मान के साथ फादर रॉबर्ट मिंज ने उनका अंतिम संस्कार कराया। मौके पर कैप्टन संजीत कुमार पांडेय के नेतृत्व में 237 तोपखाना के जवानों ने अंतिम सलामी दी। स्व. बेक आर्मी यूनिट 33 मीडिया रेजिमेंट फरीदकोट पंजाब के जवान थे, वे शां‍ति सेना के तौर पर इजरायल में तैनात थे। इधर, उनके पिता मसीहदास बेक, मां सलोनी बेक व प|ी किशोरी केरकेट्टा का रो-रोकर बुरा हाल था। जॉनसन बेक इंटर की पढ़ाई योगदा सत्संग कॉलेज, रांची से करने के बाद चार साल पूर्व आर्मी में जीडी के पद पर भर्ती हुए थे। इनकी पहली पोस्टिंग फरीदकोट, पंजाब थी। दो साल पूर्व इनकी शादी लापुंग के कुरकुरिया गांव निवासी मैट्रिक पास किशोरी केरकेट्टा से हुई थी। इनकी 11 माह की एक बेटी एंजेल दिव्या बेक है। जॉनसन तीन भाइयों में तीसरे नंबर पर थे। बड़े भाई अनिल बेक और मंझला भाई जवाकिम बेक हैं। जवाकिम दिव्यांग हैं। उनका पालन पोषण का जिम्मा जॉनसन बेक पर ही था। घटना की जानकारी मिलते ही गांव में मातम छा गया। जॉनसन की प|ी बार-बार मूर्छित हो रही थीं। उन्हें गांव की महिलाएं संभाल रही थीं। अंतिम संस्कार में भाग लेने आईं मांडर विधायक गंगोत्री कुजूर ने कहा कि वे मुख्यमंत्री रघुवर दास से मिलकर एक सैनिक को मिलने वाली सारी सुविधाएं दिलाने का प्रायस करेगी। जनप्रतिनिधियों में जिप सदस्य बेड़ो पश्चिमी के फूलचंद तिर्की व समाजसेवी फिलमोन बेक ने इस घटना को दुखद बतलाया। मौके सीओ असीम बड़ा, भोगेन सोरेन, बीस सूत्री अध्यक्ष राजीव रंजन अधिकारी, झाविमो प्रखंड अध्यक्ष नवल किशोर सिंह, कमल क्लब अध्यक्ष बलराम सिंह समेत सैकड़ों ग्रामीणों ने अश्रुपुरित आंखों से जॉनसन को विदाई दी।

जॉनसन की प|ी को तिरंगा सौंपते आर्मी के जवान व बेक का फाइट फोटो (इनसेंट में)।