• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • बिना चर्चा किए बजट पास करा लेना बहुमत का दुरुपयोग: बाबूलाल मरांडी
--Advertisement--

बिना चर्चा किए बजट पास करा लेना बहुमत का दुरुपयोग: बाबूलाल मरांडी

झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि सरकार ने लोकतांत्रिक व्यवस्था का मजाक उड़ाया है। बिना चर्चा किए ही...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 02:15 PM IST
झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि सरकार ने लोकतांत्रिक व्यवस्था का मजाक उड़ाया है। बिना चर्चा किए ही बजट पास करवा दिया गया। वहीं निर्धारित समय सीमा से पहले ही अनिश्चितकाल काल के लिए सत्र स्थगित कर दिया गया। यह रघुवर सरकार के दंभ और तानाशाही रवैये को बताता है। ऐसा कर सरकार ने बहुमत का दुरुपयोग किया है। ये लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है। झारखंड के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। बाबूलाल बुधवार को पार्टी कार्यालय में मीडिया से रूबरू थे।

उन्होंने सरकार पर भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण देने का भी आरोप लगाया। कहा कि सदन में विपक्ष सरकार में उच्च पदों पर बैठे पदाधिकारियों पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की चर्चा करना चाहता था। प्रधानमंत्री से राज्य के मुख्यमंत्री तक भ्रष्टाचार के विरुद्ध बड़ी-बड़ी बातें करते हैं, लेकिन भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों को हटाना तो दूर की बात है, सदन में उसपर चर्चा तक नहीं होने दी। बाबूलाल ने स्थानीय नियोजन नीति के संशोधन की मांग करने वाले 26 भाजपा विधायकों की प्रशंसा भी की। कहा कि उनकी पार्टी शुरू से ही स्थानीय युवाओं के लिए संघर्ष करती रही है। उनकी मांग है कि झारखंड में सभी श्रेणियों की नौकरी में 20 सालों तक स्थानीय को आरक्षण दिया जाए।