Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» फर्स्ट फेज में हरमू, किशोरगंज, मधुकम पिस्कामोड़ में मिलेगा सप्लाई का पानी

फर्स्ट फेज में हरमू, किशोरगंज, मधुकम पिस्कामोड़ में मिलेगा सप्लाई का पानी

अटल नवीकरण एवं शहरी परिवर्तन मिशन योजना के तहत शहर को दो फेज में बांटकर सप्लाई वाटर की डीपीआर बनी है। फेज वन में घनी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:20 PM IST

अटल नवीकरण एवं शहरी परिवर्तन मिशन योजना के तहत शहर को दो फेज में बांटकर सप्लाई वाटर की डीपीआर बनी है। फेज वन में घनी आबादी वाले क्षेत्र शामिल हैं। फेज दो में नई बसावट वाले क्षेत्र है। फेज वन में कुल 344 किलोमीटर सप्लाई पाइपलाइन बिछेगी। इससे करीब 62,198 घरों में पानी पहुंचाया जाएगा। हरमू, किशोरगंज, पहाड़ी टोली, इरगू टोली, कैलाश नगर, मधुकम, स्वर्ण जयंती नगर, लक्ष्मी नगर, पिस्कामोड़, बैंक कॉलोनी सहित अन्य क्षेत्रों में 24 घंटे सातों दिन जलापूर्ति होगी। फेज वन में 14 एलिवेटेड सर्विस रिजर्ववायर (ईएसआर) का निर्माण होगा। इसके िलए जुडको ने फेज वन में सप्लाई पाइपलाइन बिछाने और ईएसआर बनाने के लिए बुधवार को टेंडर जारी किया। 22 फरवरी को टेंडर खुलेगा। अगले दो वर्षों में यह प्रोजेक्ट पूरा होगा।

अटल नवीकरण व शहरी परिवर्तन मिशन योजना

पाइपलाइन बिछी, फिर भी नहीं पहुंच रहा पानी

जोन वन में कुल 75,897 घर हैं। इनमें मात्र 13,699 घर में ही पानी का कनेक्शन है। इसमें से भी 50 प्रतिशत घर में कनेक्शन होने के बावजूद सप्लाई पानी नहीं पहुंचता। मधुकम, रातू रोड, पिस्कामोड़ क्षेत्र में पानी सप्लाई पानी आने का कोई समय निश्चित नहीं है। कभी 2 बजे रात में पानी पहुंचता है तो कभी 5 बजे सुबह। क्योंकि इन क्षेत्रों में पानी टंकी की संख्या सीमित है और उसमें पानी स्टोर करने की क्षमता भी काफी कम है। इस वजह से घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है।

पानी टंकी बनाने के लिए नहीं मिल रहा जमीन का एनओसी

सप्लाई वाटर के फेज वन में कुल 14 एलिवेटेड सर्विस रिजर्ववायर (ईएसआर) बनेंगे। इसके लिए कंसल्टेंट और जुडको ने जमीन चिन्हित कर ली है। फिलहाल अमरूद बागान, पंडरा में पंचायत भवन के पास, रातू रोड में मधुकम के पास और हरमू हाउसिंग कॉलोनी में पटेल पार्क के पास टंकी बनाने के लिए जमीन का एनओसी जुडको को मिल गया है। तीन स्थानों पर एनओसी का मामला पाइपलाइन में है। सात स्थानों पर एनओसी नहीं मिला है। हिंदपीढ़ी में कल्याण विभाग, पुरानी रांची में उद्योग विभाग, किशोरगंज क्षेत्र में संस्कृत कॉलेज या पहाड़ी मंदिर के पास, कांके रोड में पुलिस लाइन की कैसरे हिंद जमीन, पिस्कामोड़ के पास कृषि विभाग की जमीन का मामला फंसा है।

गर्मी में होगी मारामारी

अम्रुत योजना के तहत फेज दो की पाइपलाइन बिछने के बाद ही सघन आबादी वाले क्षेत्रों में पानी की किल्लत दूर होगी। ऐसे में इस बार भी गर्मी में इन क्षेत्रों में पानी के लिए फिर मारामारी होगी।

बड़ी आबादी को चापानल या नगर निगम के टैंकर के सामने कतार लगानी होगी, क्योंकि वाटर सप्लाई की क्षमता में सुधार नहीं।

अम्रुत के तहत शहर के वैसे क्षेत्रों को शामिल किया गया है, जिन क्षेत्रों में पाइपलाइन होने पर भी पानी नहीं जा रहा है। जल्द फेज वन की योजना पर काम शुरू होगा। -सीपी सिंह, नगर विकास मंत्री

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×