• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • होली के जुलूस को मुहल्ला में जाने से रोका, तनाव बढ़ी तो हुआ पथराव
--Advertisement--

होली के जुलूस को मुहल्ला में जाने से रोका, तनाव बढ़ी तो हुआ पथराव

थाना क्षेत्र के धनगड्डा पंचायत के खरीका गांव में होली जुलूस के दौरान दो समुदाय में झड़प हो गई। इसमें लगभग आधा दर्जन...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:00 AM IST
थाना क्षेत्र के धनगड्डा पंचायत के खरीका गांव में होली जुलूस के दौरान दो समुदाय में झड़प हो गई। इसमें लगभग आधा दर्जन लोग घायल हो गए। यह घटना शुक्रवार शाम लगभग साढ़े छह बजे की है। घटना की सूचना पाते ही एसडीपीओ एहतेशाम वकारीब, पुलिस इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी मदन मोहन सिंह, सीओ रंजीत लोहरा, बीडीओ प्रताप टोप्पो, प्रमुख सितारा साहू समेत सिमरिया पुलिस खरीका गांव पहुंच कर मामले को शांत कराया। पुलिस को स्थानीय समाजसेवी अरविंद सिंह, जिप सदस्य दुलार चंद साहू, मनोज साहू स्थानीय मुखिया राजेंद्र पासवान आदि लोगों ने भी शांति कायम करने में अहम योगदान दिया।

इस दौरान सभी घायलों को इलाज के लिए सिमरिया रेफरल अस्पताल पहुंचाया गया। मिली जानकारी के अनुसार एक समुदाय द्वारा होली खेलने के बाद जुलूस निकाला गया था। जैसे ही जुलूस गांव के जगन भुइयां के घर के पास पहुंची। दूसरे समुदाय के कुछ शरारती तत्वों द्वारा रोक दिया गया। बताया कि जगन भुइयां के घर से एक समुदाय विशेष का मुहल्ला शुरू होता है। जिसे लेकर जुलूस को रोक दिया गया। इसके बाद दोनों तरफ से तनाव बढ़ गया।

इसी बीच एक तरफ से पत्थरबाजी होने से दोनों समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए। इसमें लगभग आधा दर्जन लोग चोटिल हो गए। मारपीट में एक पक्ष के सुनील, प्रभु राम व प्रकाश यादव घायल हो गए वहीं दूसरे पक्ष के मारुफ, फारुक व सकुर मियां तथा कुछ महिलाओं को भी मामूली चोट आई है। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में दोनों समुदाय के तेरह लोगो को हिरासत में लेते हुए शनिवार को जेल भेज दिया। इनमें अजय कुमार, शाहिद अंसारी, शहजाद अंसारी, मो० मारुफ, दीपेंद्र भुइयां, रफीक अंसारी, दीपक कुमार पाल, मोहम्मद फारुक, अवध कुमार, सुनील कुमार सुमन, प्रभु राम, प्रकाश यादव तथा मो. तमसीन शामिल है। समाचार लिखे जाने तक खरीका गांव में पुलिस प्रशासन एवं समाजसेवियों के पहल पर स्थिति सामान्य हो गई । वरीय पुलिस अधिकारी के निर्देश पर एहतियात के तौर पर शांति बनाए रखने एवं नियंत्रण को लेकर पुलिस बल की तैनाती की गई है।

अलग-अलग तीन मामला दर्ज

खरीका गांव में झड़प व पत्थरबाजी के तीन मामले दर्ज किए गए। इसमें पुलिस के अलावा दोनों पक्षों से अलग अलग मामला दर्ज कराई है। टंडवा पुलिस की ओर से सहायक अवर निरीक्षक विनोद तिवारी ने दर्ज प्राथमिकी में कहां है कि डीजे साउंड के जरिए सांप्रदायिक उन्माद फैलाने के आरोप में लगभग डेढ़ दर्जन लोगों को नामजद अभियुक्त बनाते हुए अन्य 25 अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है । जबकि कांड संख्या 34/18 में मोहम्मद सिराज ने नौ के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की है । जिसमें प्रकाश यादव ,दीपक पाल , सुनील कुमार राम, दीपेंद्र भुइयां, अवध यादव, चांदो गंझू, बालेश्वर गंझू, तुलसी यादव, संदीप यादव समेत अज्ञात 25 लोगों के द्वारा गाली गलौज एवं धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है। वही सुखदेव राम ने सोलह लोगों को नामजद अभियुक्त बनाते हुए पत्थरबाजी करने का आरोप लगाया है । जिसमें इजहार मियां, सिराज मियां, रेयाज मियां, एनुल अंसारी, शकुर मिया, सत्तार मियां, मुख्तार मियां, सल्लू अंसारी, मुजावर मियां व मंसूर मियां का नाम शामिल है ।