Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Twenty-Two-Ton Barrel Truck Recovers Trapped In Pit

20 टन छड़ लदा ट्रक गड्ढे में फंस कर पलटा, ड्राइवर-कंडक्टर दब कर मरे

20 टन छड़ लदा ट्रक गड्ढे के कारण असंतुलित होकर पलट गया।

bhaskar news | Last Modified - Nov 17, 2017, 07:02 AM IST

  • 20 टन छड़ लदा ट्रक गड्ढे में फंस कर पलटा, ड्राइवर-कंडक्टर दब कर मरे

    चान्हो. रांची-डालटनगंज मुख्य मार्ग पर चान्हो के पकरियो पुल के पास गुरुवार सुबह छह बजे भीषण सड़क हादसा हुआ। 20 टन छड़ लदा ट्रक गड्ढे के कारण असंतुलित होकर पलट गया। हादसे में ट्रक चालक शेख इमरान (22) और खलासी राहुल सईद की छड़ से दब कर घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं ट्रक में बैठा एक अन्य युवक मुकद्दर गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे रिम्स में भर्ती कराया गया है। चालक और खलासी पुरुलिया के रहने वाले थे। ट्रक बंगाल से छड़ लेकर लोहरदगा जा रहा था।

    चालक की पूरी बॉडी छड़ से दबी
    पकरियोपुल के पहले एक गड्ढा है, जिसके कारण स्पीड से रहा ट्रक के चालक का संतुलन बिगड़ गया और ट्रक पुल के नीचे पलट गया। ट्रक की स्पीड अधिक होने के कारण उस पर लदा छड़ केबिन को तोड़ते हुए चालक और खलासी को दबा दिया। चालक का पूरा शरीर ट्रक की बॉडी और छड़ के नीचे दब गया। करीब पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने दोनों शवों को बाहर निकाला। वहीं, कुछ लोग मदद करने के बजाए हादसे की वीडियो बनाने में व्यस्त थे।

    छड़ से दबा युवक मुकद्दर मदद के लिए बार-बार चिल्ला रहा था। उसे बड़ी मुश्किल से दो घंटे बाद निकाल कर रिम्स भेजा गया। शवों को निकालने के लिए जेसीबी मशीन की मदद ली गई। रांची से भी क्रेन मंगाया गया था। गैस कटर और क्रेन की मदद से छड़ को हटाने के बाद चालक खलासी के शव बाहर निकाले जा सके। हेवी लोड के कारण ट्रक जब गड्ढे में गिरा, तो उसके आगे की पत्ती टूट गई थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Twenty-Two-Ton Barrel Truck Recovers Trapped In Pit
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×