झारखंड / एक्जिट पोल आने के बाद ईवीएम पर घमासान; सीएम बोले- ईवीएम पर प्रश्न उठाना लोकतंत्र का अपमान



After exit poll, opposition Awful on EVM, CM says- insult of democracy
X
After exit poll, opposition Awful on EVM, CM says- insult of democracy

  • ट्रक पर ईवीएम नहीं, खाली ट्रंक था, सभी प्रोटोकॉल का हुआ है पालन : अमिताभ
  • झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने एक्जिट पोल को तारक मेहता का उल्टा चश्मा बताया

Dainik Bhaskar

May 22, 2019, 08:32 AM IST

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि विपक्ष में रह कर नकारात्मक राजनीति करने वालों को जनता 23 मई को आईना दिखाने जा रही है। हार सामने देख कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दल ईवीएम का रोना रो रहे हैं। हार के डर से बौखलाए विपक्षी दलों की ओर से ईवीएम पर सवाल उठाना लोकतंत्र का अपमान है। वो पहले कहते थे- ईवीएम हैक हो गई, अब कह रहे हैं ईवीएम बदल दी गई है। 

 

ये भी पढ़ें

Yeh bhi padhein

 

सीएम ने कहा कि संपूर्ण देश देख रहा है। कैसे कांग्रेस व उनके सहयोगियों ने लोकतंत्र का मजाक बना रखा है। सीएम ने कहा कि प्रथम चरण के मतदान के बाद ही ये साफ हो गया था कि देश की जनता मोदी को फिर से प्रधानमंत्री के तौर पर देखना चाहती है। 

 

तारक मेहता का उल्टा चश्मा है एक्जिट पोल : हेमंत
पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने एक्जिट पोल को तारक मेहता का उल्टा चश्मा बताया है। कहा कि सास भी कभी बहू थी...टीवी धारावाहिक की तरह कम समय का एक एपिसोड है। यह एक ऐसा छोटा सा टीवी धारावाहिक है, जो चुनाव खत्म होने के बाद और गिनती शुरू होने तक चलता है। हेमंत ने कहा कि एक्जिट पोल के बहाने टीवी चैनल्स अपनी-अपनी दुकान सजाते हैं। 

 

ट्रक पर ईवीएम नहीं, खाली ट्रंक था : अमिताभ
अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अमिताभ कौशल ने कहा कि ट्रक पर ईवीएम नहीं, खाली ट्रंक लदे थे। इस मामले में आयोग के सभी प्रोटोकॉल का पालन हुआ है। प्रोटोकॉल का कोई वॉयलेशन नहीं हुआ है। खाली ट्रंक लदा ट्रक देवघर से दुमका जा रहा था। जैसे ही मुख्य निर्वाचन कार्यालय को इसकी सूचना मिली कि कुछ लोगों ने शक के आधार पर ट्रक को रोक दिया है, एक-एक ट्रंक खोल कर दिखाने का निर्देश दिया गया। बाद में सबको एक-एक ट्रंक खोल कर दिखाया गया। उनमें कुछ भी नहीं था। वे सभी खाली थे। 

 

खाली ट्रंक ले आने-जाने का कोई नियम नहीं है 
अमिताभ कौशल ने कहा कि चुनाव के पूर्व उन्हीं ट्रंकों में ईवीएम भेजी गई थीं। चुनाव के बाद अब वे ईवीएम बज्रगृह में हैं। काउंटिंग के बाद सारी ईवीएम इन्हीं ट्रंकों में रखी जाएंगी। इसीलिए खाली ट्रंकों को दुमका ले जाया जा रहा था। उन्होंने कहा कि ईवीएम मूवमेंट के लिए नियम है, खाली ट्रंक ले आने-जाने का कोई नियम नहीं है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना