रिम्स में दवा देने के बाद गर्भवती महिला गंभीर, परिजन बुलाते रहे पर नहीं अाया डाॅक्टर, महिला की माैत

Ranchi News - रिम्स में समय पर इलाज न मिलने से एक बार फिर एक गर्भवती महिला की माैत हाे गई। पलामू के वीरधवर निवासी नथुनी प्रसाद की...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:40 AM IST
Ranchi News - after giving medication in the rims pregnant women continue to call the serious family but not the doctor the woman39s death
रिम्स में समय पर इलाज न मिलने से एक बार फिर एक गर्भवती महिला की माैत हाे गई। पलामू के वीरधवर निवासी नथुनी प्रसाद की प|ी सुनीता देवी (30) काे सीढ़ियाें से गिरने पर यहां भर्ती कराया गया था। एक दवा देने के बाद उसके मुंह से झाग अाने लगा। परिजन डाॅक्टर से देखने की मिन्नतें करते रहे, पर काेई नहीं अाया अाैर शुक्रवार सुबह 6 बजे तक उसकी माैत हाे गई। परिजनाें ने रिम्स अधीक्षक से इसकी लिखित शिकायत की है। सुनीता के देवर भूपेंद्र कुमार मेहता ने कहा- सीढ़ी से गिरने से सुनीता के कान से हल्का खून अा रहा था। वह गर्भवती थी। उन्हें डालटनगंज सदर अस्पताल ने रिम्स रेफर िकया था। बुधवार को इमरजेंसी से सर्जरी ए-टू वार्डे में भर्ती कराया। गुरुवार काे वह ठीक थीं। रात में डाॅक्टर ने एक दवा लिखी। शुक्रवार सुबह 4:30 बजे वहीं दवा मरीज काे चढ़ाया इसके बाद उसके मुंह से झाग िनकलने लगा। वार्ड में काेई डाॅक्टर या नर्स नहीं थे। तीन बार इमरजेंसी में डाॅक्टर काे बुलाने गया। लेकिन काेई नहीं आया। काफी मिन्नत पर जब डाॅक्टर पहुंचे, मरीज की माैत हाे चुकी थी।

डाॅक्टर बाेले- हेड इंजरी का इलाज न हाेने से बिगड़ी स्थिति

सर्जरी डिपार्टमेंट के डाॅ. विनय प्रताप ने कहा-अल्ट्रासाउंड में प्रेग्नेंसी का मामला सामने अाने के बाद उसे सर्जरी डिपार्टमेंट में भर्ती किया गया था। लेकिन उसकी हेड इंजरी थी। सीटी स्कैन न हाेने की वजह से हेड इंजरी कन्फर्म नहीं हाे पाई। हेड इंजरी का इलाज न हाेने से स्थिति बिगड़ गई। उन्हाेंने कहा कि वार्ड में पीजी डाॅक्टर भी थे। लेकिन उसे नहीं बचाया जा सका।

X
Ranchi News - after giving medication in the rims pregnant women continue to call the serious family but not the doctor the woman39s death
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना