पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बकाेरिया कांड में केस दर्ज कराने वाले माेहम्मद रुस्तम सरकारी गवाह बने

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोहम्मद रुस्तम। (फाइल फोटो)
  • 9 जून 2015 को पलामू के सतबरवा के भलवही घाटी में सुरक्षाबलों और माओवादियों के बीच हुई थी कथित मुठभेड़
Advertisement
Advertisement

पलामू. जिले के सतबरवा में हुए बहुचर्चित बकाेरिया कांड में एफअाईअार दर्ज कराने वाले तत्कालीन सब इंस्पेक्टर माेहम्मद रुस्तम काे सीबीअाई ने सरकारी गवाह बना लिया है। अब सीबीअाई काे उम्मीद है कि बकाेरिया कांड का सच जल्दी ही सामने अा जाएगा। 


वहीं झारखंड पुलिस के कई बड़े अफसराें की परेशानी भी बढ़ेगी। क्याेंकि सीबीअाई की पूछताछ में माे. रुस्तम अपने बयान से पलट गया था। सतबरवा अाेपी के तत्कालीन थानेदार हरीश पाठक के बयान का समर्थन करते हुए उन्हाेंने सीबीअाई काे बताया था कि सीनियर अफसराें ने लिखी हुई एफअाईअार दी थी, जिस पर उन्हाेंने सिर्फ हस्ताक्षर किया था। उन्हाेंने कहा कि घटना के बाद पुलिस अफसराें ने हरीश पाठक पर एफअाईअार दर्ज करने का दबाव बनाया था। पाठक ने जब फर्जी मुठभेड़ की एफअाईअार दर्ज करने से इनकार कर दिया ताे उनसे एफअाईअार दर्ज कराई गई थी।

हाईकाेर्ट ने 22 अक्टूबर 2018 काे दिया था सीबीअाई जांच का अादेश
पुलिस ने पलामू के सतबरवा थाना क्षेत्र के बकाेरिया में 8 जून 2015 काे मुठभेड़ में 12 लाेगाें काे मार गिराने का दावा किया था। मृतकाें के परिजनाें ने इसे फर्जी मुठभेड़ बताते हुए सीआईडी जांच पर सवाल उठाया। इसके बाद 22 अक्टूबर 2018 काे हाईकाेर्ट ने मामले की सीबीअाई जांच का अादेश दिया।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement