खूंटी / नागरिकता संशोधन कानून सीएए से किसी को डरने की जरूरत नहीं: फग्गन सिंह कुलस्ते

सीएए के संबंध में विचार रखते केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते। सीएए के संबंध में विचार रखते केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते।
X
सीएए के संबंध में विचार रखते केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते।सीएए के संबंध में विचार रखते केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते।

  • केंद्रीय मंत्री ने कहा- यह कानून नागरिकता छीनने वाला नहीं बल्कि नागरिकता देने वाला कानून है

दैनिक भास्कर

Jan 19, 2020, 03:47 AM IST

खूंटी. नागरिकता संशोधन कानून सीएए से किसी से डरने की जरूरत नहीं है। यह कानून नागरिकता छीनने वाला नहीं बल्कि नागरिकता देने वाला कानून है। नागरिकता संशोधन अधिनियम के तहत धार्मिक उत्पीड़न के आधार पर बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए अल्पसंख्यकों और लंबे समय से भारत में बगैर नागरिकता के रहनेवाले शरणार्थियों को देश की नागरिकता दी जाएगी। पूर्ववर्ती कांग्रेस की सरकारों ने भी बाहरी देशों से घुसपैठ के जरिए भारत में रहने वाले की बात तो करते थे लेकिन इसके लिए कभी कानून नहीं बनाया। एनडीए के शासनकाल में जब नागरिकता संशोधन कानून बनाया गया तब कांग्रेसी एवं वामपंथी दल देशवासियों को भड़का कर देश को अशांत करने में जुटे हैं। उक्त बातें केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने नगर भवन में आयोजित सीसीए से संबंधित कार्यक्रम में कही।

केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री ने कहा कि भारत में कानून बनाने का अधिकार संविधान ने भारतीय संसद को दिया है। भारतीय संसद ने ही नागरिकता संशोधन कानून बहुमत से पास किया है। राज्यसभा में एनडीए को बहुमत नहीं होने के बावजूद वहां से भी सीएए कानून को बहुमत से पारित किया गया है। उन्होंने कहा कि जिस समय लोकसभा और राज्यसभा में नागरिकता संशोधन बिल प्रस्तुत किया गया था। उस समय विपक्ष के सदस्यों ने भी इसका समर्थन कर बहुमत से बिल को पास करवाया। जब यह बिल पास होकर कानून बन गया तब इनके द्वारा देशभर में विरोध किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश का बनाया कानून को कोई भी राज्य लागू होने से नहीं रोक सकता। यदि कोई राज ऐसा करता है तो वह राज्य संविधान विरोधी है। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर असम में एनआरसी की छानबीन की गई थी। उस वक्त किसी ने भी एनआरसी पर सवाल खड़ा नहीं किया। आज जब नागरिकता देने के लिए नागरिकता संशोधन अधिनियम लाया गया है तो देश को भड़का कर अशांत किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में एनआरसी का कोई प्रस्ताव नहीं है। कार्यक्रम के दौरान स्वागत भाषण विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा ने दिया तथा धन्यवाद ज्ञापन नगर पंचायत अध्यक्ष अर्जुन पाहन ने दिया। 

विपक्षी दल नागरिकता संशोधन कानून के प्रति लोगों को भड़का रही है: कड़िया मुंडा
पूर्व सांसद कड़िया मुंडा ने कहा कि भारत तेजी सेेे बदल रहा है। देश दुनिया में भारत का नाम फैल रहा है। जल्द ही भारत महाशक्ति के रूप में जाना जाएगा। इन सब से घबराकर विपक्षी दल सिर्फ अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने के लिए नागरिकता संशोधन कानून के प्रति लोगों को भड़का रही है। पूर्व सांसद ने कहा कि विरोध करने वालों को यह ज्ञात नहीं है कि कानून में क्या है, पर विरोध करवाने वालों को सब कुछ पता है। देश में अराजकता का माहौल बनाया जा रहा है। देश रसातल में जा रहा है, इसकी चिंता नहीं है। सिर्फ अपनी राजनीतिक जमीन बचाने की चिंता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना