--Advertisement--

आरक्षी नियुक्ति परीक्षा में ब्लूटूथ से नकल करते एक धराया, गिरफ्तार

आरक्षी नियुक्ति परीक्षा में ब्लूटूथ से नकल करते एक धराया, गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 11:54 AM IST
युवक ने कान के काफी अंदर ब्लूट युवक ने कान के काफी अंदर ब्लूट

रांची। एग्जाम सेंटर पर ब्लूटूथ से नकल करने के मामले में 5 परीक्षार्थियों को पुलिस ने रविवार को अरेस्ट कर लिया। इनमें से एक का एग्जाम सेंटर गांधी नगर, डीएवी था। चेकिंग के दौरान, पुलिस की नजर एक लड़के के कान पर गई तो कुछ संदिग्ध लगा। ठीक से जांच की गई तो ब्लूटूथ सामने आ गया। झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (जेएसएससी) द्वारा इंडिया रिजर्व बटालियन नियुक्ति परीक्षा के दौरान यह मामला सामने आया, बाकी चार मुन्ना भाई रांची के अन्य सेंटर से पकड़े गए।

-राज्य के 385 सेंटर्स पर यह परीक्षा हुई। वहीं, रांची के 67 केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की गई थी। डीएवी, गांधीनगर एग्जाम सेंटर पर एक परीक्षार्थी हाईटेक नकल करते हुए धराया।
-इस परीक्षार्थी ने इनर के अंदर मोबाइल को विभिन्न पार्ट में विभक्त कर रखा हुए था। कान में ब्लूटूथ के माध्यम से नकल की तैयारी में था।
-संदेहास्पद गतिविधि के कारण इसे पकड़ा गया। सेंटर सुपरिन्टेंडेंट की सूचना पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। गोंदा थाने में परीक्षार्थी से पूछताछ चल रही है।
-बताते चलें कि पिछले सप्ताह हुई इसी परीक्षा में नकल करने-कराने के आरोप में 17 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

बड़ा नेटवर्क कर रहा काम

-पुलिस इस लड़के को भी उसी गिरोह में शामिल देख रही है, जो पिछले रविवार पकड़ में आए थे। पुलिस के अनुसार, इंडियन रिजर्व बटालियन (आईआरबी) की परीक्षा में नकल के लिए एक बड़ा नेटवर्क काम कर रहा है।
-यह हाईटेक गिरोह चार ग्रुप में बंटा होता है। इनके जिम्मे क्वेश्चन पेपर का फोटो खींचने, प्रश्नों को हल करने और फिर परीक्षा हॉल में बैठे परीक्षार्थियों तक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस और माइक्रो फोन के जरिए सॉल्व क्वेश्चन पहुंचाना होता है।
-पिछले रविवार अरेस्ट इस नेटवर्क का मास्टर माइंड अनूप कुमार हाईटेक चोरी कराने के लिए कैंडिडेट्स को डिवाइस उपलब्ध कराता था। डिवाइस कैसे और कहां लगाना है, इसकी पूरी सेटिंग भी वही करता था।

फोटो/वीडियो: संतोष चौधरी/फैजल इकबाल।

X
युवक ने कान के काफी अंदर ब्लूटयुवक ने कान के काफी अंदर ब्लूट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..