--Advertisement--

रांची में बदला मौसम, बादलों ने जमाया डेरा, सिमडेगा में गिरे ओले

रांची में बदला मौसम, बादलों ने जमाया डेरा, सिमडेगा में गिरे ओले

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:26 PM IST
दोपहर में हुआ रात का अहसास: यह त दोपहर में हुआ रात का अहसास: यह त

  • दोपहर तीन बजे ही हो गया रांची में काफी अंधेरा, सड़क पर चलती गाड़ियों में जलानी पड़ी हेड लाइट
  • बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी ने बनाया अपर एयर सर्कुलेशन, 2 अप्रैल तक तेज हवा चलने के भी आसार

रांची। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार रविवार को राजधानी रांची समेत पूरे झारखंड में मौसम बदल गया। रांची में दोपहर बाद से काले बादलों ने डेरा जमा लिया और तेज हवा के साथ झमाझम बारिश हुई। ज्यादा अंधेरा होने से लोगों को दिन में ही रात का अहसास हुआ। ऐसा झरखंड के कई जिलों में हुआ। गरज के साथ कई इलाकों में ओले भी गिरे। रांची के आसपास के जिलों में भी ऐसा ही हाल रहा। गुमला, बोकारो और लातेहार में भी मौसम का मिजाज बदल गया है। वहीं, सिमडेगा में जोरदार बारिश हुई और आेले भी गिरे। रांची में हवा अधिकतम 50 किमी प्रतिघंटे की स्पीड से चली। वहीं, बारिश 12 मिमी रिकॉर्ड दर्ज की गई है। इधर, जमशेदपुर में 105 किमी की स्पीड से हवा चली और 26 मिमी बारिश रिकॉर्ड दर्ज की गई।

रेलवे स्टेशन में भी जलानी पड़ी लाइट

दोपहर में अंधेरा छाने की वजह से रांची की सड़क पर चलती गाड़ियों में हेडलाइट तक जलानी पड़ी। रेलवे स्टेशन पर भी लाइट जला दी गई। लोगों काे काफी दिनों बाद दोपहर में ऐसा नजारा देखने को मिला है। दोपहर तीन बजे के बाद रांची की विजिबलिटी 1200 मीटर पहुंच गई। जबकि इससे पहले 6 हजार मीटर तक थी। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी कि है कि रविवार की रात तक झारखंड के कई जिलों में ऐसा ही मौसम रह सकता है।

आधे घंटे तक हुई बारिश

सरायकेला में तेज हवा के साथ हुई बारिश ने लोगों को राहत दी। दोपहर से मौसम के रूख में बदलाव का अहसास होने लगा था। धीरे-धीरे आसमान में काले बादल छाने लगे, तेज हवा चलने लगी। कुछ देर बाद सरायकेला में बारिश होने लगी और साथ में ओले भी गिरने लगे। लगभग आधे घंटे तक ओले के साथ हुई बारिश ने तापमान गिरा दिया।

2 अप्रैल तक मौसम बदले रहने के आसार

बताते चलें कि पिछले दों दिनों में संथाल परगना, दुमका, देवघर और गोड्डा सहित कई जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र रांची का पूर्वानुमान है कि दो अप्रैल तक प्रदेश के कई हिस्सों में आंधी-तूफान के साथ बारिश होने के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी की वजह से झारखंड के ऊपर एक अपर एयर सर्कुलेशन बना है। इसका असर झारखंड में दिख रहा है।

कल भी हुई थी बारिश

पश्चिमी सिंहभूम और सरायकेला खरसावां में शनिवार की शाम भी अचानक मौसम ने करवट ले ली थी। चाईबासा चक्रधरपुर सहित कई जगहों पर शाम को तेज हवाएं चलीं। एेसा लगा कि बारिश होगी, लेकिन कुछ ही देर में मौसम साफ हो गया। वहीं, सरायकेला खरसावां में ओले गिरे। कई जगहों पर मौसम में अचानक बदलाव से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

X
दोपहर में हुआ रात का अहसास: यह तदोपहर में हुआ रात का अहसास: यह त
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..