--Advertisement--

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा- सामूहिक विवाह को जन आन्दोलन बनाएं

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा- सामूहिक विवाह को जन आन्दोलन बनाएं

Dainik Bhaskar

Jan 28, 2018, 12:41 PM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 21 नवव मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 21 नवव

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सामूहिक विवाह को जन आन्दोलन बनाएं। इस प्रकार की सामूहिक विवाह समारोह के आयोजन से लाखों रुपए की बचत होती है। गरीब परिवारों को ऐसे विवाह के आयोजन से समाज और सरकार की मदद भी प्राप्त होती है। उन्होंने रविवार को 21 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद और बधाई दी। साथ ही ईश्वर से इनके सुखमय जिन्दगी की कामना भी की। मुख्यमंत्री ने हरमू मैदान में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में लोगों को संबोधित भी किया।

'जीवन में राजनीति से बड़ी ताकत है समाज'

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि इन 21 नवविवाहित जोड़ों को राज्य सरकार की ओर से मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि के रूप में 30-30 हजार रुपए और आयोजन के लिए व्यवस्थापक संगठन को भी 21 हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि मनुष्य एक समाजिक प्राणी है। हम सभी लोग इसी समाज का एक अंग है। सभी को एक जुट होकर एक हृदय के साथ लोक कल्याण का कार्य करना चाहिए। जीवन में राजनीति से बड़ी ताकत है समाज। समाज कोई राजनेता या नेता की उपज नही है। समाज हमारे पूर्वज, अभिभावक और आपसी भाईचारा की देन है। समाज में व्याप्त गरीबी को दूर करने के लिए सरकारी योजनाओं का लाभ उठायें। योजनाओं के सफल संचालन में सभी लोग अपनी भूमिका जिम्मेवारीपूर्वक निभाएं।

युवा शक्ति ही राज्य में बदलाव ला सकते हैं

उन्होंने कहा कि समाज को शक्तिशाली एवं समृद्ध बनाना ही सभी लोगों का लक्ष्य एवं उद्देश्य होना चाहिए। लोक कल्याणकारी कार्य करने के लिए संगठन को मजबूत करने की आवश्यकता है। गरीब, असहाय एवं जरूरतमंदों की सहायता के लिए सहयोग की भावना रखें। संगठन, सहयोग और मित्रताभाव से ही समाज आगे बढ़ेगा। युवा शक्ति राष्ट्र की ताकत होती है। युवा शक्ति ही राज्य में बदलाव ला सकते हैं।

आज के समय में बेटियां किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं

सीएम ने कहा- बेटे और बेटियों में फर्क नहीं करें। आज के समय में बेटियां किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। झारखंड की कई बेटियों ने देश और दुनिया में राज्य का नाम रौशन किया है। समाज में अभी भी लिंग अनुपात में असंतुलन एवं नशापान जैसी कुछ विकृतियां हैं। इन विकृतियों को जागरूकता के माध्यम से ही दूर किया जा सकता है। बेटी को पूरी शिक्षा दें। उसके बाद ही उनकी शादी करें। कम उम्र में बेटियों का विवाह न करें। बेटियों को भी आगे बढ़ने का पूरा मौका दें। नारी शक्ति को समाज की शक्ति के साथ-साथ राष्ट्र की शक्ति बनाएं।

विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए पैसे की कमी आड़े नहीं आएगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए पैसे की कमी आड़े नहीं आएगी। राज्य सरकार इन विद्यार्थियों के लिए मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना चला रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने झारखंड राज्य की पिछड़े वर्गों की सूची (अनुसूची-2) के बनिया के कोष्टक में अंकित वैश बनिया एवं एकादश बनिया जाति को पिछड़े वर्गों की सूची (अनुसूची-2) से विलोपित करते हुए झारखंड राज्य की अत्यंत पिछड़े वर्गों की सूची (अनुसूची-1) सम्मिलित करने का कार्य किया है। इससे इस समाज को अत्यंत पिछड़े वर्गों को मिलने वाले आरक्षण आदि का लाभ मिलेगा।

ये थे उपस्थित

कार्यक्रम में नगर विकास एवं आवास मंत्री सीपी सिंह, कांके विधायक जीतुचरण राम, रांची मेयर आशा लकड़ा, जेएससीए उपाध्यक्ष अजय नाथ शाहदेव, तेली समाज के प्रदेश अध्यक्ष अरूण कुमार साहू, उपाध्यक्ष श्री मूलचंद साहू सहित तेली समाज के लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

X
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 21 नववमुख्यमंत्री रघुवर दास ने 21 नवव
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..