Home | Jharkhand | Ranchi | News | Chief Minister said: Life line of Palamu and Garhwa is Malay and Aanraj reservoir scheme

मुख्यमंत्री ने कहा- पलामू और गढ़वा की लाईफ लाइन है मलय एवं अन्नराज जलाशय योजना

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य में सिंचाई व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

Dainikbhaskar.com| Last Modified - May 16, 2018, 04:36 PM IST

1 of
Chief Minister said: Life line of Palamu and Garhwa is Malay and Aanraj reservoir scheme
मुख्यमंत्री ने पलामू जिले की मलय जलाशय योजना एवं गढ़वा जिले की अन्नराज जलाशय योजना की सिंचाई क्षमता को पुनर्बहाल करने एवं नहर प्रणाली का पुनरूद्धार एवं लाईनिंग कार्य का ऑनलाइन शिलान्यास किया।

रांची।   मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य में सिंचाई व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। हर खेत में पानी पहुंचे और किसान की आय में दोगुणी वृद्धि हो, इसके लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध प्रयास कर रही है। गांव, गरीब और किसान का समग्र विकास ही सरकार का लक्ष्य है। उक्त बातें मुख्यमंत्री ने बुधवार को झारखंड मंत्रालय के सभागार में पलामू जिले की मलय जलाशय योजना एवं गढ़वा जिले की अन्नराज जलाशय योजना की सिंचाई क्षमता को पुनर्बहाल करने एवं नहर प्रणाली का पुनरूद्धार एवं लाईनिंग कार्य का ऑनलाइन शिलान्यास करते हुए कही। 

 

डैम की मरम्मति एवं अन्य क्षतिग्रस्त संरचनाओं का पुनरूद्धार कार्य कराया जाएगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि मलय जलाशय योजना के पुनर्बहाल होने से पलामू जिला के सतबरवा प्रखंड के 27 गांव, मेदिनीनगर प्रखंड के 42 गांव एवं लेस्लीगंज प्रखंड के 36 गांव लाभान्वित होंगे। 63 हजार अनुसूचित जाति एवं जनजाति की आबादी सहित 1 लाख 55 हजार लोगों को इस योजना का सीधा लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस पुनरूद्धार कार्य में मलय मुख्य नहर के 5.34 कि.मी. से 40.839 कि.मी. तक लेस्लीगंज शाखा नहर के 30.506 कि.मी. तक पुनर्स्थापन एवं लाईनिंग कार्य किया जाएगा। डैम की मरम्मति एवं अन्य क्षतिग्रस्त संरचनाओं का पुनरूद्धार कार्य कराया जाएगा।

 

42 गांवों के 4632 हेक्टयर में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि अन्नराज जलाशय योजना के पुनरूद्धार होने से गढ़वा जिले के 42 गांवों के 4632 हेक्टयर में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। परियोजना के पूर्ण होने पर कितासोती कला, कितासोती खुर्द, बालीगढ़, चेरीपोखर, बेलहारा, खोन्हर, गिजना, करूआ कला, करूआ, करूआ खुर्द, बनपुरवा, रंका, डुमरिया, तिलदाग, तिवारी मरहटिया, दूबे मरहटिया आदि गांव के लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि अन्नराज जलाशय योजना का पुनरूद्धार एवं क्षतिग्रस्त नहर का लाइनिंग कार्य 84.68 करोड़ रुपए की लागत से राज्य सरकार द्वारा शुरू कराया जा रहा है। 

 

तीव्र विकास करना सरकार की प्राथमिकता
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना में अन्नराज मुख्य नहर के 14.812 कि.मी. एवं आद्रा मुख्य नहर के 12.00 कि.मी. तक पुनरूद्धार एवं लाइनिंग कार्य करते हुए योजना के हेड रेगुलेटर, सी.डी. संरचना, आउटलेट तथा बीच में अवस्थित पुल का निर्माण एवं मरम्मति किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पलामू एवं गढ़वा जिले के साथ-साथ पूरे राज्य में सिंचाई योजनाओं का तीव्र विकास करना सरकार की प्राथमिकता है। इसके लिए पूरे झारखंड में पूर्व निर्मित सिंचाई योजनाओं की खोई सिंचाई क्षमता को पुनर्बहाल करने के लिए पूर्व में 15 सिंचाई योजनाओं के पुनरूद्धार का कार्य 637 करोड़ रुपए की लागत से स्वीकृत किया गया है। 

134 पुनर्स्थापन योजनाओं का कार्य पूर्ण हो चुका है
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वित्तीय वर्ष में 22 सिंचाई योजनाओं की स्वीकृति प्रदान कर इनका कार्य भी प्रारम्भ किया जाएगा। इन 22 योजनाओं को 414 करोड़ रुपए की लागत राशि से पूरी की जाएगी, इससे 23520 हेक्टयर सिंचाई क्षमता पुनर्बहाल किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य में लघु सिंचाई प्रक्षेत्र में चेकडैम की 495 योजनाओं का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। 812 चेकडैम का कार्य 2018-19 में पूर्ण कराने का लक्ष्य है। इस लक्ष्य को प्राप्त कर 70688 हेक्टयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता का सृजन किया जा सकेगा। इसके अलावे 134 पुनर्स्थापन योजनाओं का कार्य पूर्ण हो चुका है। 431 पुनर्स्थापन योजनाओं का कार्य इस वर्ष पूरी कर ली जाएगी। इस कार्य पूर्ण होने से 31182 हेक्टयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता पुर्नस्थापित किया जा सकेगा।

 

14 पुरानी सिंचाई योजना का पुनरूद्धार कार्य किया जा रहा
मुख्यमंत्री ने कहा कि पलामू प्रमण्डल में सिंचाई व्यवस्था को विकसित कर किसानों को समृद्ध किए जाने पर राज्य सरकार विशेष फोकस कर रही है। इन योजनाओं के अतिरिक्त भी पलामू प्रमण्डल में सदावह सिंचाई योजना, बुटनडुबा जलाशय योजना, सोनरे सिंचाई योजना, जिंजोई सिंचाई योजना, दानरो जलाशय योजना, पण्डरवा जलाशय योजना, बतरे जलाशय योजना, रामघाट सिंचाई योजना, नकटीनाला जलाशय योजना, तथा उपरी करवार सिंचाई योजना, बिरहा सिंचाई योजना, चोरडण्डा सिंचाई योजना, फुलवरिया सिंचाई योजना सहित 14 पुरानी सिंचाई योजना का पुनरूद्धार कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं के अतिरिक्त कनहर सिंचाई परियोजना के डीपीआर पर सीडब्लूसी की सहमति प्राप्त कर ली गई है। 1903 करोड़ रुपए की लागत वाली इस परियोजना का कार्यान्वयन हो जाने पर गढ़वा जिला में 53,000 हेक्टेयर भूमि का पटवन हो सकेगा।

 

पलामू के किसानों में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ: सांसद
ऑनलाइन शिलान्यास के अवसर पर वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से पलामू सांसद बी.डी.राम और स्थानीय विधायक आलोक चौरसिया ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को बधाई और धन्यवाद दिया। सांसद बी.डी.राम ने कहा कि राज्य सरकार ने पलामू के सर्वांगीण विकास के लिए विशेष ध्यान दिया है। पलामू वासियों के लिए आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। मलय जलाशय एवं अन्नराज जलाशय योजना का शिलान्यास होने से पलामू के किसानों में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। पूरा विश्वास है कि इन योजनाओं का सीधा लाभ इस क्षेत्र के किसानों को मिलेगा और किसान समृद्धि की ओर अग्रसर होंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछले तीन वर्षों में राज्य के तीव्र विकास के लिए हर सेक्टर में अच्छा कार्य किया है।

 

किसानों के लिए एक नायाब तोहफा: विधायक
स्थानीय विधायक आलोक चौरसिया ने कहा कि मलय जलाशय एवं अन्नराज जलाशय योजना का शिलान्यास होना यह दर्शाता है कि राज्य सरकार किसानों के हित के लिए सदैव तत्पर है। पलामू एवं गढ़वा जिले में इन सिंचाई योजनाओं का पुनरूद्धार होना यहां के किसानों के लिए एक नायाब तोहफा है। ऑनलाइन शिलान्यास के अवसर पर मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, अपर मुख्य सचिव डी.के.तिवारी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. सुनील कुमार वर्णवाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।                                                                                 

Chief Minister said: Life line of Palamu and Garhwa is Malay and Aanraj reservoir scheme
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य में सिंचाई व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now