Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Chief Minister Said That 25,000 Youth Will Be Given Appointment Letters On Vivekanand Jayanti

मुख्यमंत्री ने कहा- विवेकानंद जयंती पर 25 हजार युवाओं को दिया जाएगा नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि अपने पैरों पर खड़ा होना, स्वावलंबी होना किसे कहते हैं, यह सरिता देवी से सीखा जा सकता है।

Pawan Kumar | Last Modified - Jan 09, 2018, 06:52 PM IST

  • मुख्यमंत्री ने कहा- विवेकानंद जयंती पर 25 हजार युवाओं को दिया जाएगा नियुक्ति पत्र
    +1और स्लाइड देखें
    लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री रघुवर दास।

    गुमला (झारखंड)। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि अपने पैरों पर खड़ा होना, स्वावलंबी होना किसे कहते हैं, यह सरिता देवी से सीखा जा सकता है। जिन्होंने एक छोटी सोच के साथ रोजगार की शुरुआत की और अपने क्षेत्र से गरीबी को समाप्त करने का बीड़ा उठाया। आज वे 4 से 5 हजार रुपए प्रतिमाह अतिरिक्त कमा रही हैं और आज इनके प्रयास से इस गांव में कई महिलाएं मुर्गी पालन कर स्वावलंबी बन रही है। मुख्यमंत्री मंगलवार को गुमला के रायडीह ब्लॉक के सिलम गांव में गुमला ग्रामीण पोल्ट्री सहकारी समिति लिमिटेड द्वारा किए जा रहे मुर्गी पालन के कार्यों का निरीक्षण कर रहे थे।

    2022 तक राज्य को गरीबी से मुक्त करने का प्रयास
    सीएम ने कहा कि लोगों को कौशल विकास से जोड़ कर उन्हें रोजगार मुहैया कराया जा रहा है। सरकार आगामी 12 जनवरी को विवेकानंद जयंती के अवसर पर 25 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र देने जा रही है। इस अवसर पर उन्होंने दाना उत्पादन केन्द्र, सिलम का भी निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने महिलाओं से कहा कि मुर्गी पालन के साथ-साथ अंडा उत्पादन का भी कार्य करें। सरकार प्रत्येक समूह को अंडा उत्पादन के लिए 4 लाख रुपए एवं शेड निर्माण के लिए 60 हजार रुपए दे रही है। सरकार मिड डे मिल में बच्चों को देने के लिए सभी अंडों को खरीदेगी। इससे कुपोषण से भी मुक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि 2022 तक राज्य को गरीबी से मुक्त करने का प्रयास किया जा रहा है। सरकार झारखंड को विकसित राज्यों की श्रेणी में लाने के लिए लगातार प्रयास कर रही हैं। राज्य के 32 हजार गांवों में से 29667 गांवों में विलेज काॅ-ऑर्डिनेटर नियुक्त किए जा चुके हैं, जो 20 जनवरी तक अपने गांवों में गरीब परिवारों को चिन्हित करेगी। सरकार उनकी गरीबी दूर करने के लिए उन्हें रोजगार प्रदान कराएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित कंबल, चादर एवं स्कूल ड्रेस को झारक्राफ्ट के माध्यम से खरीदेगी ताकि महिलाएं और अधिक स्वावलंबी बने। सिलम गांव की महिलाओं को सरकार सिलाई मशीन देगी ताकि वे स्कूल ड्रेस बनाकर कर झारक्राफ्ट को दें और आर्थिक रूप से मजबूत हो।

    कम उम्र में बेटी की शादी ना करें, उन्हें पढ़ने दें
    मुख्यमंत्री ने कहा कि अशिक्षा के कारण ही गरीबी, अंधविश्वास एवं अन्य सामाजिक विसंगतियां व बुराईयां हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि बेटा के साथ-साथ बेटी को भी पढ़ाएं, कम उम्र में बेटी की शादी ना करें, उन्हें पढ़ने दें। बेटी के पढ़ने से परिवार एवं समाज मजबूत होता है। उन्होंने गुमला की रितु कुमारी का उदाहरण देते हुए कहा कि उसने कम उम्र में शादी के विरुद्ध आवाज उठाई और पढ़ाई आगे जारी रखने की गुहार लगाई। सरकार ने उसकी सुनी और उसे एक लाख रुपए की सहायता दी तथा कस्तूरबा स्कूल में नामांकन का भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासी बाहुल्य गांवों में आदिवासी विकास समिति बनेगी तथा अन्य क्षेत्रों में ग्राम विकास समिति। ये समितियां गांवों में होने वाले विकास कार्यों की रूप रेखा तय करेगी, सरकार सीधे उनके खातों में पैसा देगी। उन्होंने कहा कि गांव को समृद्धशाली, स्वावलंबी बनाना है। गांव समृद्धशाली व स्वावलंबी होगा तभी राज्य विकसित होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री उद्यमी लघु बोर्ड का गठन किया गया है। जो गांवों में लघु एवं कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने का कार्य कर रही है।

    बतक एक लाख से ज्यादा महिला समूह का गठन
    कार्यक्रम में कृषि मंत्री रणधीर सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य विकास के पथ पर अग्रसर है। राज्य की गरीबी दूर करने के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का ध्येय है कि ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को स्वरोजगार व व्यवसाय से जोड़ा जाए और इन तीन सालों में अब तक एक लाख से ज्यादा महिला समूह का गठन किया जा चुका है। सरकार ने लोगों को रोजगार देने के लिए जोहार योजना की शुरुआत की है। कार्यक्रम को गुमला विधायक शिवशंकर उरांव, डीसी श्रवण साय, प्रदान संस्था के सीईओ पंकज दास ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, कृषि सचिव पूजा सिंघल, काॅ-आपरेटिव के प्रबंध निदेशक विजय कुमार एवं गणमान्य व्यक्ति सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

  • मुख्यमंत्री ने कहा- विवेकानंद जयंती पर 25 हजार युवाओं को दिया जाएगा नियुक्ति पत्र
    +1और स्लाइड देखें
    मुख्यमंत्री ने गुमला ग्रामीण पोल्ट्री सहकारी समिति लिमिटेड द्वारा किए जा रहे मुर्गी पालन के कार्यों का निरीक्षण भी किया।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Chief Minister Said That 25,000 Youth Will Be Given Appointment Letters On Vivekanand Jayanti
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×