Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» CM Raghubar Das Inaugurated Employers Conclave In Ranchi

एम्पायर्स कॉन्क्लेव का उद्घाटन, सिंगापुर की कंपनी आइटीइ की मदद से रांची में ६० करोड़ रुपये की लागत से विश्वस्तरीय कौशल विकास केंद्र खोला जायेगा

एम्पायर्स कॉन्क्लेव का उद्घाटन, सिंगापुर की कंपनी आइटीइ की मदद से रांची में ६० करोड़ रुपये की लागत से विश्वस्तरीय कौशल विकास केंद्र खोला जायेगा

Pawan Kumar | Last Modified - Dec 22, 2017, 04:51 PM IST

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड के युवा सीधे-सरल और मेहनतकश हैं। उनके हाथ में हुनर दे दिया जाये तो वे पूरी दुनिया में अपना नाम रौशन सकते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए इसका बजट पांच गुणा बढ़ा कर 700 करोड़ रुपये से अधिक कर दिया है।

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में पहली बार कौशल विकास मंत्रालय का गठन किया गया है। युवाओं को हुनरमंद बनाने के इस उद्देश्य में झारखंड अग्रणी भूमिका निभा रहा है। सीएम शुक्रवार को एम्पायर्स कॉन्क्लेव का उद्घाटन करने के बाद लोगों का संबोधित कर रहे थे।

राज्य में जल्द ही स्किल पॉलिसी बनायी जायेगी : सीएम

- सीएम ने कहा कि राज्य में जल्द ही स्किल पॉलिसी बनायी जायेगी। इसमें निवेशकों को रियायती दर पर जमीन मिलेगी। कॉलेज कैंपस में 10 साल के लिए लीज पर जमीन दी जायेगी। साथ ही अग्रिम राशि का भी भुगतान किया जायेगा।

- कंपनियों के साथ दीर्घ अवधि के लिए एमओयू किया जायेगा। इसके साथ ही सिंगापुर की कंपनी आइटीइ की मदद से रांची में विश्वस्तरीय कौशल विकास केंद्र खोला जायेगा। 60 करोड़ रुपये की लागत आयेगी।

- इससे तैयार बच्चे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना सकेंगे। सिमेंस की मदद से सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना की गयी है। यहां से प्रशिक्षित लोगों को दुबई व मध्य-पूर्व एशिया में नौकरी के अवसर मिलेंगे।

- भारत से जापान में अगले तीन साल में पांच लाख प्रशिक्षित लोग जायेंगे। इसमें झारखंड अग्रणी भूमिका निभा सकता है। इससे हमारे युवाओं को भी अच्छी नौकरी मिलेगी।

- अंग्रेजी और जापानी भाषा की महत्ता को देखते हुए इन पर भी काम हो रहा है। कौशल विकास केंद्रों में छात्रों को 150 घंटे की स्पोकेन इंग्लिश का कोर्स कराया जा रहा है। रांची विश्वविद्यालय में जापानी भाषा की कक्षाएं शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है।

हर गरीब परिवार के कम से कम एक सदस्य को प्रशिक्षित कर रोजगार या स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा

- मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हर गरीब परिवार के कम से कम एक सदस्य को प्रशिक्षित कर रोजगार या स्वरोजगार से जोड़ेगी। इससे उनको गरीबी रेखा से ऊपर लाने में मदद मिलेगी। इससे पलायन के कलंक से भी झारखंड को मुक्ति मिलेगी।

- उन्होंने कहा कि झारखंड में बेहतरीन पॉलिसियां बनायी गयी हैं। हम मानव बल को संपत्ति के रूप में देखते हैं। मानव संसाधन के विकास से ही राज्य का विकास हो पायेगा।

- कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि राज्य में निवेशक सम्मेलन करने का लाभ यहां के लोगों को मिला है। मुख्यमंत्री रघुवर दास राज्य को तेजी से विकास की ओर ले जा रहे हैं। सरकार युवाओं को डिग्री के साथ हुनरमंद बनाने का काम कर रही है। इनका असर दिखने लगा है।
विभिन्न जिलों में रोजगार के अवसर बढ़ रहे

- मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने कहा कि राज्य में बड़ी संख्या में लोगों को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नौकरियां मिली हैं। विभिन्न क्षेत्रों में निवेश हो रहे हैं तथा राज्य के एक-दो शहरों में ही नहीं विभिन्न जिलों में रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं। कार्यक्रम में नियोक्ता कंपनियों व सर्विस प्रोवाइडर्स ने अपने विचार साझा किये।

- इस दौरान विकास आयुक्त अमित खरे, उद्योग सचिव सुनील वर्णवाल, उच्च, तकनीकी शिक्षा व कौशल विकास सचिव अजय कुमार सिंह समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

फोटो : पवन कुमार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: CM ne kiyaa empaayrs konklev ka udghaatn, khaa- raanchi mein banegaaa kaushl vikas kendr
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×