Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Congress PC In Ranchi Regarding Karnataka Elections

कर्नाटक के राज्यपाल वाजुभाई वाला और मुख्यमंत्री येदियुरप्पा दें इस्तीफा: कांग्रेस

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस ने खुशी जताई है। कोर्ट को धन्यवाद दिया है।

Vinay Chaturvadi | Last Modified - May 19, 2018, 05:30 AM IST

कर्नाटक के राज्यपाल वाजुभाई वाला और मुख्यमंत्री येदियुरप्पा दें इस्तीफा: कांग्रेस

रांची। कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस ने खुशी जताई है। कोर्ट को धन्यवाद दिया है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष सह विधायक सुखदेव भगत ने शुक्रवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में हुए प्रेस वार्ता में कहा, कोर्ट ने लोकतंत्र की लाज बचाई है। कोर्ट पर लोगों की आस्था व विश्वास को बरकरार रखा है। ऐसी परिस्थिति में अब कर्नाटक के राज्यपाल वाजुभाई वाला और मुख्यमंत्री येदियुरप्पा अपने-अपने पद से तत्काल इस्तीफा दें। मौके पर पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेश ठाकुर, राजीव रंजन प्रसाद और किशोर शाहदेव उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री और अमित शाह ने मिलकर हॉर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा दिया: सुखदेव भगत
सुखदेव ने कहा कि कर्नाटक के राज्यपाल ने भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया। इससे यह स्पष्ट हो गया कि प्रधानमंत्री और अमित शाह ने मिलकर हॉर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा दिया। दोनों के हस्तक्षेप से संविधान का मजाक और कानून की धज्जियां उड़ाई गईं। राज्यपाल संविधान के रक्षक नहीं बल्कि भाजपा के मुखौटा के रूप में काम कर रहे हैं। गोवा, मेघालय और मणिपुर में भी यही स्थिति रही। भाजपा ने यहां सरकार बनाई है। यदि भाजपा के हस्तक्षेप से संवैधानिक संस्थाएं निर्णय लेंगी तो उन संस्थाओं पर लोगों की आस्था घटेगी।

'भाजपा आरएसएस की विचारधारा थोप रही'
उन्होंने कहा कि भाजपा आरएसएस की विचारधारा थोप रही है। संविधान की मूल भावना को आहत कर रही है। चाल, चरित्र और चिंतन की बात करने वाली भाजपा ने अनैतिक चरित्र से चाल चली है। वह लोगों के विश्वास की चिता जला रही है। वह येन केन प्रकारेण सत्ता में बने रहना चाहती है। बाद में कांग्रेस नेताओं का एक शिष्टमंडल राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मिलकर उन्हें राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सौंपा। झारखंड में तीन साल पूरे होने पर उन्हें बधाई भी दी।

संगठनात्मक मुद्दे पर जोनल प्रभारियों के साथ प्रदेश प्रभारी आज दिल्ली में करेंगे बैठक

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह और सह प्रभारी उमेश सिंघार शनिवार को संगठनात्मक मुद्दे पर अहम बैठक करेंगे। इसके लिए झारखंड के सभी जोनल प्रभारियों को बुलाया गया है। इसके अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार भी दिल्ली बुलाए गए हैं। बताया जा रहा है कि इस बैठक में कांग्रेस के कई जिलाध्यक्षों के भाग्य का फैसला हो सकता है। सबकी राय से ही निर्णय लिया जाएगा। नए जिलाध्यक्षों के नाम पर भी सहमति बननी है। कुछ जोनल प्रभारी बैठक में भाग लेने दिल्ली पहुंच चुके हैं। अन्य शनिवार को ही पहुंचेंगे। इसके अलावा विधानसभा प्रभारियों की सूची पर भी विचार किया जाएगा।

रांची महानगर अध्यक्ष के लिए कई दावेदार

रांची महानगर कांग्रेस अधयक्ष को बदले जाने की स्थिति में दावेंदारों की सूची भी लंबी है। बताया जा रहा है कि संजय पांडेय, राजीव रंजन प्रसाद, डॉ. राजेश गुप्ता छोटू, कुमार राजा दौड़ में शामिल हैं। इसके अलावा प्रदेश प्रदेश मीडिया विभाग का भी फेरबदल और विस्तार होने की संभावना है।

सभी कमेटियों की अपनी डफली अपना राग

प्रदेश एआईसीसी द्वारा प्रदेश में कांग्रेस के सीनियर लीडरों के नेतृत्व में अलग अलग कमेटी बनाई गई है। इनमें कमेटियों में कैंपेन कमेटी, को आर्डिनेशन कमेटी , मीडिया कमेटी, प्लानिंग कमेटी समेत कई अन्य कमेटियां बनाई गई हैं। इन कमेटियों की अपनी डफली अपनी राग का मामला है। इन कमेटियों की अब तक एक भी संयुक्त बैठक नहीं हुई है। इसकी वजह से विभिन्न कमेटियों के बीच आपसी समन्वय नजर नहीं आ रहा है।


छह माह भी नहीं बन पाई प्रेदश कमेटी

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार को झारखंड में संगठन की कमान संभाले करीब छह माह हो चुके हैं लेकिन अब तक प्रदेश कमेटी का गठन नहीं हो पाया है। यह अलग बात है कि एआईसीसी द्वारा सीनियर नेताओं को जोनल कमेटी समेत कई कमेटियों में जगह दी गई है। ये कमेटियों काम तो कर रही हैं लेकिन सतह पर उनका काम नजर नहीं आ रहा है।


फोटो: विनय चतुर्वेदी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×