Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Delivering A Message Of Unity In A Lot Of Khadi And Saras Festival

अनेकता में एकता का संदेश दे रहा खादी एवं सरस महोत्सव

अनेकता में एकता का संदेश दे रहा खादी एवं सरस महोत्सव

Pawan Kumar | Last Modified - Dec 27, 2017, 07:11 PM IST

रांची।मोरहाबादी मैदान में चल रहे खादी एवं सरस महोत्सव 2017-18 अनेकता में एकता का संदेश दे रहा है। खरीदारी के साथ-साथ लोग विभिन्न राज्यों की सांस्कृतिक जीवंतता का लुत्फ भी उठा रहे है। सर्दियों की छुट्टी होने के कारण मेले में लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है। बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने मेले का परिभ्रमण किया।

झारखंड राज्य खादी बोर्ड के अध्यक्ष संजय सेठ ने बताया कि लोगों की सुरक्षा को देखते हुए मेले में पुलिसकर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। महोत्सव की सुरक्षा व्यवस्था के लिए जैप बल की प्रतिनियुक्ति, महिला एवं पुरुष पुलिस बल, अस्थायी पुलिस कैम्प की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की गई है। उन्होंने कहा कि मेले की संपूर्ण अवधि के दौरान समुचित एवं निरंतर सफाई व्यवस्था/मच्छर निरोधी दवा का छिड़काव/पीने का पानी की व्यवस्था की जा रही है। मेला परिसर पूरी तरह से पॉलिथीन फ्री जोन है। मेले में सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के स्टॉल पर लोगों को निशुल्क पुस्तिकाओं का वितरण किया जा रहा है, जिसमें सरकार के 1000 दिन, सरकार के विभिन्न योजनाओं की जानकारी सहित अन्य तरह की पुस्तकें दी जा रही है। वहीं, मेले में पटना से आए विशाल सिंह द्वारा लगाए गए स्टॉल में 50 रुपए में उपन्यास और 20 रुपए में बच्चों की किताबें दी जा रही है। इनका कहना है कि प्रतिदिन 400 से अधिक इनकी पुस्तकों की ब्रिकी हो रही है।

मेले में कल होने वाले कार्यक्रम
-चंद्रदेव सिंह, नागपुरी नृत्य की प्रस्तुति।
-सतीश मिश्रा, हिंदी गायन की प्रस्तुति।
-आलोक कुमार पंडा, ओडिशा संबलपुरी नृत्य की प्रस्तुति।
-तनीषा म्यूजिकल ग्रुप की प्रस्तुति।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: anektaa mein ektaa ka sndesh de raha khaadi evn srs mhotsv
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×