--Advertisement--

पुलिस और जेजेएमपी के बीच हुई मुठभेड़, कई सामान बरामद

पुलिस और जेजेएमपी के बीच हुई मुठभेड़, कई सामान बरामद

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 05:24 PM IST
मुठभेड़ खत्म होने के बाद पुलिस मुठभेड़ खत्म होने के बाद पुलिस

लातेहार (झारखंड)। महुआटांड़ थाना क्षेत्र के पुटरूंगी गांव के जंगल में रविवार को महुआडांड़ थाना पुलिस व उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (जेजेएमपी) के बीच भीषण मुठभेड़ हुई। हालांकि, पुलिस को भारी पड़ता देख जेजेएमपी के उग्रवादी जंगल का लाभ उठाकर भागने में सफल हो गए।

-मुठभेड़ खत्म होने के बाद पुलिस द्वारा सर्च अभियान चलाया गया, जहां उग्रवादियों के जूते-चप्पल बिखरे हुए थे। मुठभेड़ का नेतृत्व महुआडांड़ एसडीपीओ ओमप्रकाश तिवारी ने किया।
-इस संबंध में ओमप्रकाश तिवारी ने बताया कि यह गुप्त सूचना मिली थी कि पिछले दो-तीन दिनों से उग्रवादी संगठन जेजेएमपी का दस्ता करीब 50-60 की संख्या में महुआडांड़ थाना क्षेत्र में घुसकर लोगों को धमकाने का कार्य कर रहा है।
-कमांडर उपेंद्र के नेतृत्व में ये सब हो रहा था। रविवार को गुप्त सूचना मिली कि उग्रवादी संगठन जेजेएमपी के लोग पुटरूंगी जंगल में ठहरे हुए हैं।
-इसपर त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस पर नजर पड़ते ही उग्रवादियों ने पुलिस को लक्ष्य कर फायरिंग शुरू कर दी।
-इसके बाद पुलिस ने भी मोर्चा संभालकर जवाबी कार्रवाई प्रारंभ कर दी। करीब 45 मिनट तक हुई मुठभेड़ में दोनों ओर से लगभग 150 चक्र गोलियां दागी गई।
-एसडीपीओ के मुताबिक 55-60 चक्र गोलियां पुलिस द्वारा चलाई गई। पुलिस को भारी पड़ता देखकर जेजेएमपी के उग्रवादी जंगल का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे।
-भागने के क्रम में उग्रवादी जूता, चप्पल, चटाई, बाल्टी आदि सामग्री छोड़ गए, जिसे पुलिस ने तलाशी के दौरान जब्त कर लिया है।
-बताते चलें कि इसी माह में लातेहार के जेर जंगल में हुए मुठभेड़ में जेजेएमपी को भारी नुकसान हुआ था। एरिया कमांडर गुड्डू यादव मारा गया था और 10 अत्याधुनिक हथियार बरामद किया गया था।